Artificial intelligence

AI के कारण डेवलपर्स के एंट्री लेवल जॉब 20% हुये कम नौकरी पाना चाहते हैं तो ये स्किल्स जरूरी

will ai take web deovleper jobs-अगर आज भी आप कॉलेज और यूनिवर्सिटी में पढ़ाई जाने वाली डिग्रियों की बलबूते पर नौकरी पाना चाहते हैं तो बड़े दुख के साथ ये कहना पड़ रहा है कि आपके इस उम्मीद पर पानी फिरने वाला है क्योंकि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के कारण आईटी सेक्टर में एंट्री लेवल जॉबमें 20% की कमी हुई है इसलिए आपको यह ध्यान रखने की जरूरत है की डिग्री पाने पर पढ़ाई करने के साथ साथ खुद को नए स्किल्स से अपग्रेड करना भी होगा अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपको इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ सकता है तो आइये हम आपको बताते हैं कि आर्टिफिशियल इन्टेलिजेन्स के आने से जॉब पर क्या असर पड़ा है और अगर आप इस से बचना चाहते हैं तो आपको क्या करना चाहिए|

देश भर में एंट्री लेवल तक जॉब में आई कमी

एडेको  इंडिया की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि एआई ऑटोमेशन के चलते देशभर में एंट्री लेवल के टेक  जॉब में 15-20 प्रतिशत तक कमी आई इस रिपोर्ट में एक्सपोर्ट के द्वारा यह स्पष्ट तरीके से कहा गया है कि दुनिया भर में काम करने के तौर तरीकों में व्यापक पैमाने पर बदलाव आ रहा है जिसके कारण लेवल के डेवलपर्स के लिए ai में स्पेशलाइजेशन रखना बेहद जरूरी है और इसके लिए उन्हें खुद को री स्किल करना होगा अगर कोई ये सोच रहा है की वो पुराने स्किल सीखकर अभी किस फील्ड में काम कर पाएगा या नौकरी पा जाएगा तो ये वो इसका भ्रम है  और अगर नौकरी पा भी जाता है तो इंडस्ट्री में ग्रोथ के लिए उसे नए स्किल्स सीखने ही पड़ेंगे|

ऐप्लिकेशन भी डिजाइन कर रहा है एआई

आर्टिफिशियल इन्टेलिजेन्स की क्षमताओं के बारे में बात करते हुए एडेको इंडिया के जनरल स्टाफ डायरेक्टर मनीष  सहगल ने बताया कि एआइ अब रिपीटेटिव कोडिंग  हैंडल कर सकती है एआइ अब बेसिक ऐप्लिकेशन जेनरेट करने में सक्षम हो गयी तो इस काम के लिए जिन लोगों की जरूरत पड़ती थी उन लोगों की जरूरत अब खत्म हो गयी अगर वे लोग अच्छी स्किल और एडवांस स्किल्स नहीं सीखते हैं तोउन्हें लेऑफ का सामना करना पड़ेगा|

लगातार सीखते रहने की जरूरत

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आपकी नौकरी को खत्म नहीं करेगा लेकिन शर्त ये है कि आपको लगातार नए स्किल्स को सीखते रहने की जरूरत है एआइ की दुनिया में आने वाले हर एक अपडेट को गहराई से समझने की आवश्यकता है वर्तमान समय में आपके काम में एक अनोखापन होना चाहिए और आपके पास में एक क्रिएटिव आइडिया होना चाहिए तभी आप सॉफ्टवेयर की दुनिया में कंप्लीट कर सकते हैं क्रिटिकल एनालिसिस और एक बेहतरीन इंडीविजुअल ऑब्जर्वेशन भी आपको आना चाहिये|

 क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

सीआईएल HR के मैनेजिंग डायरेक्टर व सीईओ आदित्य नारायण मिश्रा ने बताया कि उनके लेवल के डेवलपर्स को उभरती टेक्नोलॉजी के बारे में लगातार सीखते रहना चाहिए इनमें एआइ क्लाउड कंप्यूटिंग और साइबर सिक्योरिटी आदि शामिल है जिसके बारे में उन्हें गहरी पकड़ रखनी चाहिये|