breking news hindi

Singrauli news hindi-सिंगरौली में कलिंगा कम्पनी के HR ने 1 लाख 80 हजार रुपये लेकर भी युवक को नहीं दी नौकरी|

महत्वपूर्ण बिन्दु|

  1. सिंगरौली जिले में कलिंगा कॉम्पनी के HR विवेक मिश्र पर नौकरी के लिए पैसे लेनने का आरोप
  2. पीड़ित पुनीत ने वैढ़न कोतवाली में की है शिकायत|
  3. पीड़ित को झूठे मुकदमे में फ़साने की धमकी|

सिंगरौली – मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में पैसे लेकर नौकरी लगवाना एक फलता-फूलता उद्योग बन चुका है यहाँ पर कलिंगा कंपनि में नौकरी लगवाने के बहाने कई बेरोजगार युवाओं से पैसे लिए जाते हैं कुछ की नौकरी लगवाई भी जाती है और कुछ को ऊपर पहुँच होने की धमक देकर भगा दिया जाता है ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें की एक पीड़ित पुनीत द्विवेदी ने बताया है कि कलिंगा कंपनी के एचआर विवेक मिश्रा के द्वारा नौकरी लगवाने के लिए ₹1,80,000 नकद लिए गए लेकिन आज तक ना तो नौकरी लगवाई गई है नहीं पैसा वापस किया जा रहा है|

singrauli news
Complainant Puneet Dwivedi

ये है पूरा मामला 

पीड़ित पुनीत द्विवेदी द्वारा बताया गया कि कलिंगा कंपनी प्रबंधन ने एचआर विवेक मिश्रा के द्वारा ₹1,80,000 पुनीत द्विवेदी से नौकरी लगवाने के बहाने लिए गए लेकिन जब उन्होंने नौकरी की बात की तो लगातार विवेक मिश्रा के द्वारा टाल मटोल किया जाता रहा और जब तीन से चार महीने का समय बीत गया एक बार विवेक मिश्रा से पुनीत द्विवेदी ने जब फ़ोन पर बात किया तो विवेक मिश्रा ने पुलिस से अभद्रता की गाली-गलौच दिया और “कहा कि मेरा भाई रीवा जिले का बहुत बड़ा नेता है मेरी पहुँच ऊपर तक है तुम मेरा कुछ भी नहीं कर पाओगे अगर तुम मुझे कंपनी के भीतर मिले तो मैं तुम्हें पुलिस से पकड़वाकर जेल में बंद करवा दूंगा” विवेक से कोई बात नहीं हुई|

खास आपके लीये 

  1. Latest breking news hindi – पत्नी ने अपने बॉयफ्रेंड से मिलकर पति की करवाई हत्या फिर थाने में जाकर पुलिस से कह दी हैरान कर देने वाली बात|

कोतवाली में की गई है शिकायत

पुनीत द्विवेदी ने बताया कि इस मामले की शिकायत वेन थाने में की गई है और पुलिस इस मामले की जांच कर रही है हालांकि ये बात और है कि अभी तक पुलिस के कई बार बुलवाने पर भी विवेक मिश्रा के द्वारा थाने में अपना बयान देने के लिए उपस्थिति नहीं दी गई है पुनीत द्विवेदी ने यह भी कहा है कि ना सिर्फ मेरे से बल्कि कई लोगों से विवेक मिश्रा के द्वारा नौकरी लगवाने के नाम पर पैसे ले लिए गए हैं लेकिन उनकी नौकरी नहीं लगवाई गई है|

लगातार सामने आते हैं ऐसे मामले 

सिंगरौली जिले में नौकरी का झांसा देकर पैसा ऐंठने का ये कोई पहला मामला नहीं है ऐसे कई मामले सामने आ चूके हैं और लगातार सिंगरौली के बेरोजगार युवकों के द्वारा पैसे लेकर नौकरी लगवाने का आरोप कंपनी प्रबंधन के अधिकारियों एवं कुछ दलालों के ऊपर लगाया जाता रहा है क्योंकि सिंगरौली जिले में तमाम ओबी कंपनियां कार्यरत हैं इसलिए उन कंपनियोंमें नौकरी लगवाने के बहाने दलाल भी अपना फायदा निकलवाने में पीछे नहीं हटते|