mp news

Badwani news today-मध्य प्रदेश में रेत माफियाओं का तांडव जारी ट्रैक्टर ट्राली ने ईद मनाने आई महिला को कुचला|

बड़वानी – मध्य प्रदेश में अवैध रेत माफियाओं का तांडव जारी है अभी कुछ दिन ही बीते हैं मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में ट्रैक्टर ट्राली पलटने से एक आदिवासी बच्चे की मौत हो गई थी वो भी अवैध रेत का उत्खनन करके जा रहा था वहीं मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले में अवैध रेत का परिवहन करते हुए अवैध ट्रैक्टर के चालक ने महिला  को कुचला और फिर गाड़ी को रिवर्स करके दुबारा उससे पूछ लो जब तक वो पूरी तरह से दम नहीं तोड़ दी तब तक उसे चलाता रहा फिर उसके बाद में छोड़कर चालक भाग गया|

आपके लिए खास 

कोचिंग के बहाने महिलाओं की अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले शिक्षक को कोर्ट ने भेजा जेल|

ईद मनाने के लिए आई थीं घर 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक शहर के न्यू हाउसिंग बोर्ड निवासी इरफान शेख अपनी पत्नी अंजुम शेख को बस स्टैंड छोड़ने जा रहे शेख मऊ में लैब टेक्नीशियन के रूप में कार्यरत थी जो ईद त्यौहार मनाने के लिए अपनमे घर आई थी इनके पती आबकारी आरक्षक  के रूप में पदस्थ हैं |

विशेष आपके लिये 

लैपटॉप और कंप्यूटर का उपयोग करते हैं तो हो जाएं सावधान सरकार ने दी है बड़े खतरे की चेतावनी|

 इरफान ने जानकारी दी कि सुबह 6:45 बजे बाइक पर अंजुमन को महू  जाने के लिए बस में बैठाने के लिए वो छोड़ने जा रहे थे इसी दौरान रैदास मार्ग पर अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर ने पीछे से टक्कर मार दी जिसके बाद दोनों बाइक सहित नीचे गिर पड़े तब तक चालक ने भागने के लिएया और आगे करके भाग गया इस दौरान महिला के शरीर के ऊपर से गुजारें गए चक्कर के कारण महिला का चो शरीर है वह पूरी तरह से क्षत-विक्षत हो गया मैं पत्नी को गोद में उठाकर अस्पताल लेकर गए जहाँ चिकित्सकों ने परीक्षण के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया|

मध्य प्रदेश में अवैध रेत उत्खनन चरम पर

मध्य प्रदेश में अवैध रेत का जो कारोबार है वो इतना अधिक बढ़ चुका है कि पुलिस भी  बैकफुट पर नजर आती है इक्का-दुक्का की गई कार्रवाई से रेत माफियाओं को कोई फर्क नहीं पड़ता उनके पास में ऐसे सिस्टम्स हैं जिससे कि वे काफी बड़े स्तर पर  अवैध खनन करवातें है अभी मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में भी एक हादसा हुआ था जहाँ पर नाबालिग ट्रैक्टर ड्राइवर जो की अवैध रेत के उत्खनन में लिप्त था उसकी मौत हो गई ऐसे तमाम हादसे मध्यप्रदेश में देखे जा रहे हैं लेकिन अब तक पुलिस के पास अवैध रेत माफियाओं के ऊपर कार्रवाई करने के लिए कोई ठोस रणनीति नहीं है कहीं कहीं तो ये भी देखने में आता है कि पुलीस के भी जमीनी स्तर पर साठगांठ होते हैं |