post office schemes

Post office monthly invest scheme-पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में इन्वेस्ट करने से आपको मिलेंगे 21लाख 73000 रुपये जानिये डिटेल|

Post office monthly invest scheme-आपका और आपके बच्चों का भविष्य सुरक्षित हो और किसी भी प्रकार की मुसीबत से आप अच्छे से निपट सकें इसके लिए एक अच्छा इन्वेस्टमेंट प्लान आपके पास होना जरूरी है आप जितना भी पैसा कमाते हैं उनमें से कुछ पैसा आपको एक अच्छी जगह पर इन्वेस्ट करना चाहिए जिससे की आने वाले समय में आपको किसी भी प्रकार की कोई समस्या ना हो याद रखिये कि पैसा भगवान तो नहीं है लेकिन भगवान से कम भी नहीं इसलिए आपके पास जितना पैसा होगा आपकी वैल्यू उतनी भी ज्यादा होगी तो आइये हम आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में बता देंगे जिसके अंदर आपने सही तरीके से अगर इन्वेस्ट किया तो आपको ₹21,73,000 मिलेंगे|

nsc scheme
nsc intrest rate

पोस्ट ऑफिस की ये स्कीम आपको देगी बड़ा फायदा

आम लोग अपने पैसे को बचाए और उन्हें एक गारंटी रिटर्न मिल सके इसके लिए भारत सरकार के द्वारा 1989 में नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट(NSC)योजना शुरू की गई थी यह योजना पोस्ट ऑफिस के द्वारा चलाई जाती है और भारत का डाक विभाग इसे मैनेज करता है इसमें अगर आपने सही तरीके से इन्वेस्ट किया तो एक अच्छा रिटर्न आपको मिलेगा ऐसा नहीं है कि यह पैसा आप कहीं चला जाएगा या किसी तरह का फ्रॉड है भारत सरकार की गारंटी आपको इसमें मिलती है यह 5 साल की मैच्योरिटी पीरियड वाला एक इन्वेस्टमेंट होता है जिसमें 5 साल बाद आपको आपके इन्वेस्ट किये गए प्रिंसिपल अमाउंट के हिसाब से पैसा मिलता है|

खास आपके लिये 

67 watt फ़्लैश चार्जिंग 8 -256 gb स्टोरेज वाले स्मार्टफोन पर हूई डिस्काउंट की बारिश तुरंत खरीदें|

इन्ट्रेस्ट रेट क्या है और कैसे किया जाता है इनवेस्ट

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट पहले दो तरह की हुआ करती थी जिसमें कि एक 5 साल की अवधि की इन्वेस्टमेंट हुआ करती थी और दूसरी इन्वेस्टमेंट अवधि 10 साल की हुआ करती थी वर्तमान में 5 साल वाले इन्वेस्टमेंट पॉलिसी ही रन की जा रही है जिसमें की 7.7% का ब्याज आपको मिलता है हर एक क्वार्टर में इसके ब्याज को बढ़ा दिया जाता है लेकिन आप जब पैसा इन्वेस्ट कर रहे हैं उस समय जो ब्याज है उसी ब्याज को आपको आने वाले 5 साल के लिए लॉक कर दिया जायेगा ऐसा नहीं है कि दूसरे क्वार्टर में ब्याज बढ़ गया तो आपको उसके हिसाब से ब्याज मिलेगा बिल्कुल भी नहीं|

जानिये एक व्यक्ति  कितने क्रेडिट कार्ड रख सकता है और क्या है इसे मैनेज करने का तरीका|

कंपाउंड इंटरेस्ट का भी मिलता हैं फायदा

हर एक तिमाही मिलने वाले ब्याज की राशि जब 1 साल में एकत्रित हो जाती है तब उस पैसे पर आपको कंपाउंड इंटरेस्ट मिलता है और 5 साल तक ये कंपाउंड इंटरेस्ट आपको ठीक-ठाक रिटर्न देने की स्थिति में हो जाता है एक उदाहरण के लिए समझिए जैसे आपने प्रिंसिपल अमाउंट ₹10,000 इन्वेस्ट किया तो 7.7% के हिसाब से आपको 5 साल में ₹40,903 वापस मिलेंगे|

बड़ा अमाउंट इन्वेस्ट करने पर मिलेगा ज्यादा फायदा

वहीं अगर आपके पास में ठीक-ठाक पैसा है तो अगर आपने ₹15,00,000 इन्वेस्ट किया तो आने वाले 5 साल में 7.7% ब्याज के हिसाब से आपको 21,लाख 73 हजार  501 रुपये की राशि मिलेगी इन्वेस्टमेंट करने के बाद में आप इसे 5 साल से पहले बिना किसी ठोस कारण के नहीं निकाल सकते हैं सामान्य स्थिति में आपको इस पैसे को निकालने की अनुमति नहीं दी जाती है अगर कोई असामान्य स्थिति आती है जैसे कि अगर इन्वेस्टमेंट करने वालों की मौत हो गई उसे कोई बहुत बड़ी बिमारी है तो ऐसी परिस्थिति में आप पैसा निकाल सकते हैं|

कौन ओपन करवा सकता है अकाउंट

पोस्ट ऑफिस की NSC पॉलिसी में भारत का नागरिक कोई भी अकाउंट ओपन करवा सकता है इसमें उम्र की कोई सीमा नहीं है माइनर अकाउंट भी ओपन करवाया जा सकते हैं लेकिन माइनर अकाउंट को उनके पैरेंटस ही हैंडल करें|

अकाउंट खुलवाने के लिए जरूरी दस्तावेज

अकाउंट ओपन करवाने के लिए आपको दो पासपोर्ट साइज फोटो,आइडेंटिटी प्रूफ तथा एड्रेस का प्रूफ देना जरूरी होगा आपके पोस्ट ऑफिस में कुछ दस्तावेज आपसे अतिरिक्त भी मांगे जा सकते हैं जब आप वहाँ पर जाएंगे तब आपको इसकी जानकारी मिलेगी|

ब्याज के लिए भी कर सकते हैं उपयोग|

नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट में इनवेस्ट किए गए पैसे का उपयोग आप ब्याज के कोलैटरल के लिए भी कर सकते हैं जैसे की आपने ₹1,00,000 इन्वेस्ट कर दिया है तो आपको 90K से लेकर 1 लाख  से लेकर ₹1,00,000 तक का लोन भी ले सकते हैं लेकिन लोन के लिए आपको किसी बैंक में जाना होगा पोस्ट ऑफिस इसके लिए लोन नहीं देती है|

टैक्स बचाने के लिए भी कर सकते हैं इसका इस्तेमाल

नेशनल सेविंगस स्कीम income टैक्स ऐक्ट के सेक्शन 80 सी के अंतर्गत आती है यहाँ पर 1.51,00,000 तक का टैक्स में छुट भी मिलता है  तो आप टैक्स भी बचा सकते हैं और आपको रिटर्न का फायदा जो होगा वो तो होगा ही यहाँ पर आपको किसी भी तरह का टीडीएस नहीं देना पड़ता तो आप टैक्स बचाने के लिए भी यहाँ पर इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं|