crime news

इंदौर नगर निगम में 125 करोड़ रुपये का गबन करने के मामले में गिरफ्तारियाँ शुरू दो आये पकड़ में|

इंदौर- दुनिया के सबसे स्वच्छ शहरों में से एक इंदौर में भ्रष्टाचार की गंदगी करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी शुरू हो गई है दरअसल इंदौर नगर निगम में हुए ₹125,00,00,000 के घोटाले में एमजी रोड पुलिस के द्वारा रविवार शाम आरोपी मोहम्मद जाकिर और मोहम्मद साजिद को आईटी पार्क खंडवा रोड से गिरफ्तार कर लिया गया है|

बारहवीं पास है मुख्य आरोपी

थाना प्रभारी के मुताबिक आरोपित अजमेर फरार हो गए थे वहाँ से खंडवा गए रात को ज़ोन 3 के डीसीपी पंकज पांडेय के द्वारा उनसे पूछ्ताछ की गई आरोपित जाकिर बारहवीं पास हैं उसका भाई साजिद इंजीनियर के रूप में काम करता है|

फर्जी बिल बनाकर किया करोड़ों रुपये का गबन 

यह दोनों आरोपी राहुल  के दोस्त है पूछ्ताछ में यह बात सामने आई कि फर्जी बिल बनाना ही इनका काम था लेकिन उन्होंने ये बताया कि सब कुछ राहुल करता था साजिद सिर्फ दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करता था जाकिर दस्तावेज़ पीयूष करता था कई अधिकारी और कर्मचारी राहुल के साथ उठते बैठते थे राहुल की पार्षदों से भी गहरी दोस्ती है मतलब नगर निगम के प्रशासनिक अमले में भी इसकी जबरदस्त पकड़ है और ज़ाहिर सी बात है इतना बड़ा घोटाला कोई अकेले नहीं कर सकता इससे पहले पुलिस ने दो थानों की संयुक्त कार्रवाई में फरार ठेकेदारों के ऑफिस और घरों में भी छापे मारे थे पुलिस ने ताले तोड़कर फाइल ,रजिस्ट्री ,पासबुकऔर लग्जरी कारें भी जब्त कर ली थी|