Ac price increase in 2024-गर्मियों में AC व्यापारियों की हुई मौज पांच फीसदी तक बढ़ गई मांग कंपनियां नहीं कर पा रही है आपूर्ति

नई दिल्ली -भीषण गर्मी के कारण एसी की मांग में काफी ज्यादा वृद्धि हुई है जिसके कारण व्यापारियों की मौत भी हो गई है समस्या एक ओर  आ रही है जिसमें कंपनियों के सामने आपूर्ति की बाधा उत्पन्न हो गई है रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि जून तक मजबूत स्थिति बनी रहेंगी और मांग में वृद्धि होती रहेंगी यूपी और हरियाणा में तो 25 फीसदी तक मांग बढ़ गई है वहीं इस दौरान जो लोग एसी का कारोबार करते हैं और जो ब्लॉगर है खास तौर पर जो एसी की रिव्यु देते हैं उनको काफी फायदा होगा क्योंकि लोग आज कुछ भी खरीदने से पहले गूगल पर सर्च करते हैं और अगर आप ब्लॉगर है और आपने अपने वेबसाइट पर ऐसी के बारे में रिव्यु दिया है तो ज्यादातर ट्रैफिक आने की संभावना है|

SEBI gives notice to 7 companies of Gautam Adani-गौतम अडानी की 7 कंपनियों को सेबी ने दिया नोटिस जनीये पूरा मामला 

कीमतों हो गई है बढ़ोत्तरी 

निर्माताओं ने बढ़ती मांग को देखते हुए एसी के दाम को पांच फीसदी तक बढ़ा दिया है आनंद राठी फाइनैंशल सर्विसेज के द्वारा एक रिपोर्ट जारी की गई है जिसमें यह दावा किया गया है की अप्रैल के बाद मई और जून में भी देश के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है जिसके कारण जून मध्य तक ऐसी की मांग लगातार मजबूत बनी रहेगी लेकिन आपूर्ति के मोर्चे पर एसी निर्माता कंपनियों को बड़ी चुनौती का भी सामना करना पड़ रहा है बढ़ती मांग और कम आपूर्ति को देखते हुए कई राज्यों में निर्माता एजेंसियों ने एसी के दाम काफी ज्यादा बढ़ा दिए हैं ब्लू स्टार ने अपने विभिन्न मॉडल की कीमतों में 3-5 परसेंट का इजाफा किया है|

Latest breking news in mp-Csc संचालक ने बैंक में पैसे जमा करने के नाम पर की 5 लाख की धोखा-धड़ी पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार 

क्या कहता है  भारतीय मौसम विभाग 

वहीं भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत में अप्रैल में औसतन न्यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस था 1901 के बाद से यह सबसे अधिक तापमान है रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की स्थानीय डीलरों का यह कहना है कि लगातार बढ़ रहे तापमान के वजह से एसी की मांग में लगातार वृद्धि भी देखी जा रही है जिसके कारण निर्माता कंपनियों की ओर से आपूर्ति कम हो गई है इसमें ऐसी की डिलिवरी में लगने वाला समय काफी ज्यादा बढ़ गया हैओडिशा और झारखंड में पर्याप्त आपूर्ति नहीं होने के कारण स्थानीय डीलर समय पर डिलीवरी भी नहीं कर पा रहे हैं गुजरात की विभिन्न कंपनियों ने एसी की कीमतों में तीन से पांच फीसदी तक वृद्धि भी कर दी है|