breking news in india

नामी स्कूल के मालिक ने 8 वर्षीय बच्ची से किया दुष्कर्म दरोगा ने माँ पर केस दर्ज नहीं करने का बनया दबाव दोनों गिरफ्तार|

भोपाल-महिलाओं के खिलाफ़ घटित होने वाले अपराध में 2022 के राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो के डेटा के मुताबिक मध्य प्रदेश तीसरे स्थान पर है उसका मुख्य कारण यह है कि पुलिस के पास ऐसी कोई रणनीति नहीं है जिससे कि वह बेहद सक्रिय तरीके से इन अपराधों को रोक सके और अगर वह रणनीति बनाती भी है तो पुलिस का जो जमीनी अमला है वह इस रणनीति को सही तरीके से लागू ही नहीं कर पाता जैसा कि इस घटना में हुआ है बताते चलें कि मध्यप्रदेश के भोपाल जिले में एक निजी स्कूल के संचालक के द्वारा 8 वर्षीय छात्रा जो कि हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करती थी उसके साथ दुष्कर्म किया गया लेकिन जब  उसकी माँ थाने में मुकदमा दर्ज करवाने गई तो ऐसा ही उनके ऊपर मुकदमा दर्ज नहीं करने का दबाव बनाने लगा|

डॉक्टर पति ने अपनी  डॉक्टर पत्नी को दो युवकों के साथ रंगरेलियां मनाते हुए होटल में रंगे हाथ पकड़ा

मुख्यमंत्री तक पहुंचा पूरा मामला

पुलिस सूत्रों के मुताबिक जानकारी मिली कि भोपाल के एक निजी स्कूल में पढ़ने वाली आठ वर्षीय छात्रा के द्वारा अपनी माँ को पूरी घटना बताई गई और यह कहा गया कि इस स्कूल के संचालक ने उसके साथ बलात्कार किया है जब माँ इस शिकायत को लेकर थाने पर पहुंची तब वहाँ पर पदस्थ सब इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह राजपूत के द्वारा उनके ऊपर दबाव बनाया गया कि वह मुकदमा दर्ज न करवाएं वह जब वरीष्ठ अधिकारियों से शिकायत की बात करने लगी तो सब इंस्पेक्टर के द्वारा यह कहा गया कि कहीं शिकायत करने से कुछ नहीं होगा मैं जैसा कहता हूँ वैसा करो इस बात की जानकारी जब मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव तक पहुंची तब उन्होंने इस मामले में एसआईटी गठित करने का आदेश दिया|

पत्नी को दूसरे पुरुष के साँथ संबंध बनाते देख कर पती ने की आत्महत्या पहले भी कर चुका था कोशिश 

दरोगा के साथ आरोपी भी गिरफ्तार

इस विषय में डीसीपी श्रद्धा तिवारी के द्वारा जानकारी मिली है कि पुलिस के द्वारा आईपीसी 376 और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करके आरोपी निजी  स्कूल के संचालक को गिरफ्तार कर लिया गया है के साथ में मुकदमा दर्ज न करने का दबाव बनाने वाले सब इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह राजपूत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है दोनों को जेल भेज दिया गया है बताते चलें की 30 अप्रैल को यह घटना हुई थी और पुलिस ने किरकिरी के बाद में मुकदमा दर्ज किया और दो हफ्ते के बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया|