भारत के इस राज्य में कुदरत ने शुरू किया तांडव 12 लोगों की हो चुकी मौत मुआवजे का ऐलान 

कोलकाता-पश्चिम बंगाल में कुदरत ने अपना तांडव मचाना शुरू कर दिया है बताते चलें कि पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में अलग-अलग स्थानों पर प्राकृतिक दुर्घटनाओं यानी की आकाशीय बिजली गिरने के कारण 12 लोगों की मौत हो चुकी है बताते चलें कि दो अन्य लोग भी झुलस गए हैं पुलिस के द्वारा इस जानकारी की पुष्टि की गई यह भी बताया गया कि मृतकों में मणिचक थाना क्षेत्र निवासी दो नाबालिग और माला थाना क्षेत्र के शाहपुर निवासी तीन लोग भी शामिल है पुलिस के मुताबिक यह जानकारी मिली है कि वहीं दो अन्य लोग गजोल थाना क्षेत्र के मदीना और रतुआ थाना क्षेत्र के बालूपुर के निवासी हैं पुलिस के द्वारा यह बताया गया है कि हरिश्चंद्रपुर के एक खेत में काम कर रहे दंपति की भी आकाशीय बिजली के कारण मौत हो गई है|

रिकवरी एजेंसी संचालक ने अपने ही ऑफिस की युवती के साथ किया दुष्कर्म पीड़िता ने जहर खाकर की आत्महत्या 

मृतकों को मुआवज़े का हुआ ऐलान

कलेक्टर नितिन  सिंघानिया के द्वारा यह उद्घोषणा की गई है कि मृतकों के परिजनों को ₹2,00,000 राहत राशि मुआवजा दिया जाएगा उन्होंने यह कहा कि वज्रपात से मरने वाले लोगों को आपदा कोष से ₹2,00,000 की राशि उपलब्ध कराई जा रही है सभी प्रकार की सरकारी सहायता भी दी जाएगी चुनावी प्रतिबंध है लेकिन शोक संतप्त   परिवारों को हर तरह की मदद मुहैया कराने का प्रयास कर रहा है|

शिक्षा के मंदिर में अय्याश प्रिंसिपल रसोइया को बनाना चाहा हवस का शिकार चप्पल से उतारा गया आशिकी का भूत

प्रकृति ने जमकर मचाया कहर

गुरुवार दोपहर मालदा में गरज-चमक के साथ शुरू हुई बारिश ने जमकर कहर मचाया चलने की इस दौरान ओल्ड मालदा के शाहपुर में एक नाबालिग समेत तीन लोगों ने अपनी जान गंवाई मृतकों की पहचान चंदन साहनी उम्र 40 वर्ष मनोजीत मंडल 21 वर्ष और  के रूप में की गयी है यह स्थानीय एवं पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक जानकारी मिली कि इनकी मौत आम तोड़ने के दौरानगा जोल के अधीन आ में भी बिजली गिरने से 11 वीं कक्षा के एक छात्र की मौत हो गई|