Latest news in mp today-50 हजार की रिश्वत के लिये अपना जमीर बेचते डिप्टी रेंजर अरेस्ट लंबे समय से चल रहा था रिश्वत का धंधा 

नरसिहपुर-मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में गुरुवार को वन विभाग डिप्टी रेंजर के रिश्वत कांड का खुलासा किया गया है बताते चलें कि यहाँ पर जबलपुर लोकायुक्त टीम के द्वारा कड़ी कार्रवाई करते हुए गोटेगांव में पदस्थ रेंजर और डिप्टी रेंजर को ₹50,000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया  गौरतलब है कि रेंजर दिनेश मालवीय और डिप्टी रेंजर कमलेश चौहान₹50,000 के लिए अपना जमीर बेचते हुए गिरफ्तार हुए|

कंडोम का नशा कर रहे हैं हॉस्टल में रहने वाले छात्र बाजार में अंधाधुंध तरीके से बढ़ गई मांग 

व्यापारी के शिकायत पर हुई कार्यवाही 

लोकायुक्त कार्यालय में योगेंद्र सिंह पटेल जो कि टिम्बर व्यापारी हैं उनके द्वारा शिकायत की गई थी जिसमें यह बताया गया था कि वन विभाग से लकड़ी कटवाने की लिखित अनुमति लेकर 18 मई को शाम 7:00 बजे ग्राम सरणा  कोटे गांव में किसान के खेत से  लकड़ी कटवाकर हाइड्रा  वाहन से ट्रक में भरवाया जा रहा था इसी क्रम में रेजर दिनेश मालवीय dy रेंजर  कमलेश चौहान ने अपने स्टाफ के साथ ग्राम सेरणा में मौके पर आकर वाहन  और लकड़ी भरे ट्रक को जब्त कर लिया और वाहनों को श्यामनगर फॉरेस्ट चौकी गोटेगांव में खड़ा करवा दिया और वहाँ पर मुकदमा बनाने लगे|

रेडमी ,सैमसंग से आगे निकला  infinix भारत में लॉन्च किया 12 gbरैम से लैस बेहद सस्ता गेमिंग स्मार्टफोन जानें डिटेल 

धारा कम करने के लिये मांगी  गई रिश्वत 

इस संबंध में आवेदक द्वारा जब रिक्वेस्ट की गई कि गाड़ी छोड़ दीजिये तब  डिप्टी रेंजर और रेंजर के द्वारा मामले को हल्का बनाने और जुर्माना कम लगाने के एवज में ₹50,000 की रिश्वत मांगी गई जिसकी शिकायत लोकायुक्त कार्यालय जबलपुर में की गई शिकायत के वेरीफिकेशन के उपरांत गुरुवार को दोनों को वन परिक्षेत्र कार्यालय गोटेगांव में ₹50,000 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया|