जयराम रमेश को EC ने दिया जोरदार झटका 150 डीएम को कंट्रोल करने के मामले में समय देने से इनकार शाम तक जवाब तलब 

नई दिल्ली -चुनाव आयोग के द्वारा कांग्रेस के महासचिव और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के द्वारा 150 डीएम को हड़काने के मामले में समय देने से पूरी तरह से इनकार कर दिया गया है उन्होंने 2 दिन पहले यह दावा किया था कि मतगणना से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के द्वारा देशभर के 150रिटर्निंग अधिकारियों को फ़ोन किया गया है ऐसा वह चुनाव के नतीजों को प्रभावित करने के लिए कर रहे हैं बताते चलें कि जयराम रमेश के इस ट्वीट के बाद भाजपा ने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया था जिसपर आयोग ने जयराम रमेश को अपना पक्ष रखने के लिए कहा था जिसमे की रमेश के द्वारा अतिरिक्त समय की मांग की गई है लेकिन चुनाव आयोग ने सख्त लहज़े में उन्हें अतिरिक्त समय देने से इनकार कर दिया है|

 नई दिल्ली में चलती हुई ट्रेन में लगी भीषण आग ताज एक्सप्रेस के दो कोच जले 

जवाब नहीं देने पर की जाएगी कठोर कार्रवाई

ec की नोटिस की के बाद जयराम रमेश ने एक हफ्ते का अतिरिक्त समय देने की मांग की थी जिससे कि आयोग के द्वारा साफतौर पर इनकार कर दिया गया था आज शाम 7:00 बजे तक उन्हें मामले में जवाब दाखिल करने के लिए समय निर्धारित किया गया है अगर आज शाम 7:00 बजे तक जयराम रमेश समय नहीं देते हैं तो चुनाव आयोग उनके खिलाफ़ सख्त एवं कठोर कार्रवाई भी करेगा|

कांग्रेस फैला रही है अफवाह

चुनाव आयोग के द्वारा अपने पत्र में यह कहा गया है कि आप का आरोप है कि लगभग 150 संसदीय क्षेत्रों के जिला मजिस्ट्रेटों को जो कि मुख्य चुनाव अधिकारी भी हैं  को प्रभावित करने का प्रयास किया गया है जिसका कल होने वाली मतगणना की प्रक्रिया पर और पवित्रता पर गंभीर प्रभाव पड़ता है जैसा कि आयोग को दिनांक 02 \06\ 2024 के पत्र में उल्लेख किया गया है कि किसी के डीएम ने आपके द्वारा लगाए गए किसी भी अनुचित प्रभाव की सूचना नहीं दी है इसलिए आयोग समय विस्तार के आपके अनुरोध को पूरी तरह से खारिज करता है|

राजस्थान में बदमाशों ने दो संतों की पिट पीटकर की हत्या दूर ले जाकर फेंकी लाश

अफवाह फैलाने का आरोप 

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने भी कहा है कि “आप अफवाह फैलाकर सभी को संदेह के घेरे में नहीं ला सकते” उन्होंने विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए यह कहा कि आयोग ने चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए किसी भी विदेशी प्रयास से निपटके लिए भी पूर्ण रूप से तैयारी की थी लेकिन  ये आरोप देश के भीतर से आए हैं जिला अधिकारियों को प्रभावित किए जाने के आरोपों पर आपत्ति जताते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि आरोप लगाने वालों को बताना चाहिए कि किस जिला अधिकारी को प्रभावित किया गया और हम उन्हें दंडित करेंगे मतगणना प्रक्रिया शुरू होने से पहले ही उन्हें ये बताना चाहिए इसीलिए आयोग ने उन्हें अतिरिक्त समय देने से भी इनकार कर दिया|