Mp loksabha election result 2024 live-छिंदवाड़ा में नकुलनाथ ढाई लाख वोटों से पीछे कमलनाथ ने स्वीकार की हार| 

छिन्दवाडा-मध्य प्रदेश की सबसे चर्चित सीट छिंदवाड़ा में थोड़ी देर पहले ही काउंटिंग शुरू हो चुकी है और यह कांग्रेस के लिए काफी चिंताजनक है क्योंकि यहाँ पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरीष्ठ नेता कमलनाथ की प्रतिष्ठा के साथ ही कांग्रेस की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी हुई है एक और बीजेपी मध्यप्रदेश में क्लीन स्वीप करने की ओर है वहीं नकुल छिंदवाड़ा में काफी पिछड़ चूके हैं|

स्मृति इरानी सहित मोदी सरकार के 6 मंत्री चल रहे हैं पीछे यूपी में फंस गई गाड़ी राजस्थान में तैयारी 

भारी वोटों के अंतर से पीछे 

छिंदवाड़ा में नकुलनाथ थोड़े बहुत नहीं बल्कि भारी मतों के अंतर से पीछे हैं बताते चलें कि 47,214 वोटों से नकुलनाथ पीछे चल रहे हैं जबकि भाजपा के प्रत्याशी विवेक बंटी साहू लगातार बढ़त बनाए हुए है छिंदवाड़ा लोकसभा में नौ राउंड के पश्चात विवेक  साहू 70000 वोटों से आगे चल रहे हैं| ताजा आंकड़ों के मुताबिक भाजपा उम्मीदवार को 3 लाख 52 हजार वोट मिले हैं तो वहीं कॉंग्रेस के नकुलनाथ को 2 लाख 80 हजार से अधिक वोट मिले हैं|

ताजा रुझानों में NDA को कांटे की टक्कर दे रहा है INDIA अलायन्स रोचक हुआ मुकाबला 

एमपी में कायम है राम मंदिर का मुद्दा

मध्यप्रदेश में राम मंदिर का मुद्दा कायम है और यहाँ पर बीजेपी को भारी समर्थन मिल रहा है इसके साथ ही मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव  की दूरदर्शिता और कुशल शासन संचालन के कारण भी बीजेपी को काफी फायदा मिल रहा है इसके अतिरिक्त बीजेपी के सभी वरीष्ठ नेता मध्य प्रदेश में जमकर प्रचार-प्रसार कर चूके हैं इसका फायदा भी उन्हें देखने को मिल रहा है|

कमलनाथ ने स्वीकार की हार 

लोकसभा चुनाव में अधिकतर सीटें जीतने का दावा करने वाले मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छिंदवाड़ा सीट पर अपनी हार स्वीकार कर ली है अभी चुनाव आयोग के द्वारा अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है लेकिन कमलनाथ ने ये मान लिया है कि वह हार चूके हैं गौरतलब है कि इंडिया टुडे के एक्सिस माई इंडिया के एग्जिट पोल में मध्य प्रदेश में 28 से 29 सीटों पर बीजेपी की जीत के अनुमान लगाए गए थे जो कि लगभग सही निकले हैं कांग्रेस को शून्य से एक सीटें मिलने का अनुमान जताया गया था गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन के साथ सत्ता में वापसी करने के बाद बीजेपी ने पूरा फोकस छिंदवाड़ा पर किया था जिसका परिणाम देखने को मिला है|