एम.ए.करने के बाद करियर विकल्प क्या हैं? कहाँ मिलती है नौकरी कितनी होती है सैलरी जानिये सबकुछ 

carrier option after ma in hidni-बैचलर ऑफ आर्ट्स करने के बाद जो पोस्ट ग्रैजुएशन की डिग्री होती है वह मास्टर ऑफ आर्ट्स (MA) यानी की   होती है अगर आप भी एमए कर चूके हैं और इस पशोपेश में है की आपको आगे क्या करना चाहिए तो ये आर्टिकल आपके लिए ही है हालांकि बीए करने के बाद जब आपने में ऐडमिशन लिया था तभी आपको इस विषय में पता होना चाहिए था लेकिन अगर आपको नहीं पता था तो कोई बात नहींअब आपको इस विषय में जानना जरूरी है और अगर आप एमए में एडमिशन लेने ही जा रहे हैं तब आपके लिए ये पोस्ट काफी  लाभदायक हो सकती है यहाँ हम आपको बताएंगे की मास्टर आफ आर्ट्स  करने के बाद आप किन क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते हैं कहा नौकरी मिलेगी और कितनी सैलरी होती है|

50mp कैमरा 5000 mah बैटरी से लैस oppo के स्मार्टफोन पर तगड़ा डिस्काउंट शानदार लुक के साँथ ये कीमत 

क्या है मास्टर ऑफ आर्ट्स

मास्टर ऑफ आर्ट्स पोस्ट ग्रैजुएशन की डिग्री है जो कि बीए से बड़ी  और पीएचडी से होती है एमए करने के बाद आप पीएचडी भी कर सकते हैं और पीएचडी करने के लिए पोस्ट ग्रैजुएशन डिग्री काफी आवश्यक होती है सेंट्रल गवर्नमेंट तथा राज्य सरकारों की कई ऐसे वैकेंसीज होती है जहाँ पर पोस्ट ग्रैजुएशन की डिग्री अनिवार्य होती है इसके अतिरिक्त पोस्ट ग्रैजुएशन की डिग्री करने के बाद अगर आप वास्तव में ठीक से पढ़ाई करते हैं तो आपके पास बहुत सारा ज्ञान आ जाता है लेकिन अगर आप सिर्फ डिग्री लेने के लिए पढ़ाई करते हैं तो माफ़ कीजिएगा आपके लिए किसी भी फील्ड में कोई भी अपॉर्चुनिटी नहीं है|

Tecno Spark 20 Pro 5G review-16000 की कीमत में लॉन्च हुआ 108 mp कैमरा से लैस मार्केट में दबदबा 

सबसे पहले अपना माइंडसेट बदल दीजिये 

आप के आसपास चार लोग ऐसे मिल जाएंगे जो ये कहेंगे की आर्ट्स के फील्ड में तो कोई कैरियर ही नहीं है ज़माना टेक्नोलॉजी क्या है और इस युग में आर्ट  के लिए कोई जगह नहीं है सबसे पहले ऐसे लोगों से दूर रहिए क्योंकि जितनी कैरिअर ऑपर्च्युनिटीज दूसरे फील्ड में है उतने ही कैरिअर अपार्ट अपॉर्चुनिटीज़ इस फील्ड में भी है शर्त यह है कि आपको धैर्य के साथ मेहनत करने की आवश्यकता है एकाग्र होकर पढ़ने और काम करने की आवश्यकता है अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो किसी भी फील्ड में आपके लिए काम नहीं है और अगर आप ऐसा करते हैं तो चाहे कोई भी सब्जेक्ट हो आप उसमें अच्छा कर जाएंगे|

43 inch डिस्प्ले साइज़ का 4 k स्मार्टटीवी 39% हुआ सस्ता खरीदने के लिये टूट पड़ें लोग जानिये खासियत 

पांच चीजों का विशेष ध्यान

  •   धैर्य-मास्टर ऑफ आर्ट्स MA करते समय आपको धैर्य की काफी आवश्यकता पड़ने वाली है  क्योंकि आप धैर्य के साथ जब पढ़ाई करेंगे तभी आपको उसका परिणाम देखने को मिलेगा अगर आप ये सोचेंगे कि आज रात से आपने पढ़ना शुरू किया और सुबह आपको परिणाम मिल जाए तो माफ़ कीजियेगा आपको इस फील्ड में आना ही नहीं चाहिए|
  • गहन अवलोकन-मास्टर ऑफ आर्ट्स की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थी को गहन अवलोकन करने की क्षमता अपने अंदर में विकसित करनी चाहिए आपके ज्ञान समाहित हो जाना चाहिए कि आप जीस भी विषय से एमए कर रहे हैं उस विषय के  विद्वानों की संगोष्ठी में घंटों धाराप्रवाह चर्चा कर सकें खुद को आपको इतना परिपक्व बनाना चाहिए|
  • एकाग्रता-आप के आसपास कई तरह की आलोचना करने वाले लोग मिल जाएंगे लेकिन उन आलोचकों से दूर रहकर गहन एकाग्रता के साथ आपको पढ़ाई करनी है अगर आप अपने मन को भटकाएंगे तो आप सफलता से दूर होते चले जाएंगे आप जो कर रहे हैं पूरे मन और ईमानदारी से उस काम को करते रहें सफलता आपके कदम चूमेगी हाँ थोड़ी देरी हो सकती है|
  • संवाद कौशल- मास्टर ऑफ आर्ट्स के विद्यार्थी का संवाद कौशल काफी उच्च स्तरीय होना चाहिए और अगर आप हिंदी से मास्टर ऑफ आर्ट्स की पढ़ाई कर रहे हैं तब तो आपका संवाद कौशल एकदम लल्लनटॉप ही होना चाहिए तभी आपको इस क्षेत्र में सफलता मिलेगी आप लगातार इसका अभ्यास करते रहिये और साथ ही में अपने लेखन क्षमता को भी बढ़ाते रहें|
  • दबाव में काम करने की क्षमता-लोगों की आदत होती है बहाने बनाने की और जिंदगी में जो लोग बहाने बनाते रहते हैं वो कुछ नहीं कर पाते हैं इसलिए दबाव में काम करने की क्षमता को विकसित कीजिये बहाना बनाना छोड़ दीजिये सबसे घटिया आदत है यह आपको सफलता से दूर ले कर चली जाती है फिर इसकी भरपाई कभी नहीं हो पाती|

यूजीसी नेट की परीक्षा 

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन की राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा के जरिए आप असिस्टेंट प्रोफेसर बनने की काबिलियत को प्राप्त कर सकते हैं इस परीक्षा को पास करने के उपरान्त आप किसी भी विश्वविद्यालय एवं कॉलेज में बतौर असिस्टेंट प्रोफेसर पढ़ाने के योग्य हो जाते हैं अगर आपने हिंदी से एमए किया है तो इस परीक्षा को पास करने के बाद आप हिंदी के असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर पर काम कर सकते हैं|

One plus nord ce 3 5g को 20 k से कम कीमत में खरीदें लेटेस्ट अपडेट के साँथ जानिये डिटेल 

पीएचडी के लिए जेआरएफ की परीक्षा

जूनियर रिसर्च फैलोशिप एक परीक्षा होती है जिसे पास करने के बाद आपको एक निर्धारित राशि जो कि काफी अच्छी खासी होती है वह मिलती है आप पीएचडी करने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं और आपको पीएचडी करने के लिए विश्वविद्यालय में ऐडमिशन भी मिल जाता है उधर आपकी पीएचडी की पढ़ाई भी होती रहेंगी इधर आपको वजीफा भी मिलता रहेगाजैसे की आप अच्छी तरीके से पढ़ाई कर सकतेलेकिन इसके लिए वही आपको एकाग्रता और कठोर मेहनत की आवश्यकता पड़ेगी|

20000 mah के पावर बैंक आपके स्मार्टफोन को करेंगे लंबे समय तक चार्ज कीमत कमसे कम|

मीडिया के क्षेत्र में अवसर

मीडिया यानी की पत्रकारिता के क्षेत्र में आज के समय में काफी ज्यादा असर है अगर कोई ये कहता है कि पत्रकारों की कमाई नहीं होती तो यह समझ लीजिए कि या तो अनभिज्ञ  है या फिर उसे इस फील्ड के बारे में नॉलेज नहीं है दुनिया में जो सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरियां होती है उनमें से पत्रकार की नौकरी एक है हालांकि उसे बहुत सारी चीज़े आना चाहिए यहाँ पर संवाद कौशल आपके बोलने की स्किल काफी मायने रखती है भाषा प्रवाह और आपकी भाषा पर अच्छी पकड़ भी होना आवश्यक है अगर आपने ये टैलेंट है तो आपको एक बेहतरीन सैलरी वाली नौकरी मिल सकती है|

कंटेंट राइटर के रूप में अवसर

हिंदी से एमए करने के बाद हिंदी भाषा पर अच्छी पकड़  हो जाती है इसके बाद में आप विभिन्न मीडिया हाउस में बतौर कंटेंट राइटर कंटेंट एडिटर के रूप में काम कर सकते हैं यह  एक हाई प्रोफाइल जॉब है आप चाहें तो अपनी वेबसाइट भी शुरू कर सकते हैं और उस वेबसाइट को अच्छे से रैंक करवाकर अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं वेबसाइट से इतना पैसा कमाया जा सकता है जितना की एक MNC कंपनी में नौकरी करने के दौरान कमाया जा सकता है लेकिन यहाँ भी आपको धैर्य की आवश्यकता होगी|

सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी

सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने के लिये आपको ग्रैजुएशन की डिग्री ही पर्याप्त है लेकिन अल्टरनेटिव में पोस्ट ग्रैजुएशन आपके लिए काफी लाभदायक रहेगा इसके साथ ही आप सिविल सेवा की परीक्षा की तैयारी भी कर सकते हैं इसके अतिरिक्त यूपीएससी के द्वारा भूगर्भ शास्त्री तथा विभिन्न पदों पर वैकेंसी निकाली जाती है जहाँ पोस्ट ग्रैजुएशन की डिग्री अनिवार्य होती है आप वहाँ पर भी अपनी किस्मत को आजमा सकते हैं|

Pcs की परीक्षा

यह सभी राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में उनकी अपनी परीक्षा होती है हालांकि केंद्र शासित प्रदेशों की जो परीक्षा होती है और डानिक्स के माध्यम से होती है लेकिन राज्यों की अपनी राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा होती है उन परीक्षाओं में भी आप तैयारी करके बैठ सकते हैं और अगर आपकी तैयारी अच्छी होती है तो आप उत्तीर्ण हो सकते हैं|

अति आत्मविश्वास से बचें

कुछ लोगों का यह मानना होता है कि उनके अंदर में इतनी काबिलियत है कि जैसे ही वह यूपीएससी की परीक्षा देंगे यूपीएससी उनके लिए ही बैठा है वह उन्हें तुरंत ही आईएएस, आईपीएस बना देगा इस तरह के अति आत्मविश्वास से बचें क्योंकि इस तरह का जो ओवर कॉन्फिडेन्स है वहाँ आपको ले डूबेगा  संयम से काम लेंगे तो सफलता आपकी कदम चूमेगी|