FEATUREDभारतमध्यप्रदेश

Sidhi : साहब! हम बालिग हैं, शादी करा दीजिए,जमोड़ी पुलिस को हाइवे पेट्रोलिंग मे मिले थे प्रेमी-प्रेमिका का जोड़ा

 

पुलिस ने समझाइश देकर किया परिजनों को सुपुर्द

पोल खोल सीधी

सूरज और किरण के रास्ते मे परिवार दीवार बना था। आखिरकार दोनो घर से भाग गए। पुलिस ने पकड़ भी लिया। लेकिन इसके बाद पुलिस का मानवीय चेहरा सामने आया।इसका अंजाम यह हुआ कि प्रेमी-प्रेमिका को परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया। परिजनों ने प्रेम प्रसंग का कर्ई बार विरोध भी किया, लेकिन प्रेमी के प्यार मे अंधी हुई प्रेमिका ने परिवार की बंदिशों के बावजूद भी मिलना बरकरार रखा।

यूं तो पुलिस गाहे बगाहे आलोचना का शिकार होती रहती हैं पर बहुत बार ऐसा भी होता है कि पुलिस का मानवीय चेहरा उभरकर सामने आता है। ऐसा ही बीती रात हुआ जब पुलिस ने हाइवे पेट्रोलिंग मे प्रेम-प्रसंग से प्रेमी-प्रेमिका को भगाकर लेे जा रहा था।प्रेमी की पूरी प्लानिंग पर उस समय पानी फिर गया,जब हाइवे पेट्रोलिंग मे जमोड़ी पुलिस ने उनकी संदिग्ध गतिविधियों को देख थाने ले आई। अलग-अलग पूछताछ में दोनों की पोल खुल गई और घर से भागने की बात पर मुहर लग गई। जिसके बाद जमोड़ी पुलिस दोनों पक्षों को थाने बुलाकर युवती- युवक को समझाइश देेकर सुपुर्द कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार रविवार की देर रात करीब 10 बजे जमोड़ी बाइपास पर युवक व युवती को काफी देर तक बैठे देखा गया। जो बस जाने के बाद भी बैठे हुए थे। पेट्रोलिंग में लगे पुलिस जवान ने जब उनसे पूछताछ की तो दोनों गोल-मटोल जवाब देने लगे।
इस पर जमोड़ी पुलिस का उन पर शक हुआ और दोनों को थाने ले आया। जहां पूछताछ में यह बात सामने आई कि कोतवाली थाना अंतर्गत एक युवती के 19 वर्षीय युवक के साथ प्रेम प्रसंग है। जिसकी वजह से रविवार की शाम को घर से भाग कर शादी करने जा रहे थे। जहां युवक अपनी प्रेमिका को लेकर भाग रहा था।

हालांकि उनकी प्लानिंग पर जमोड़ी पुलिस की नजर ने पानी फेर दिया। जिसकी वजह से दोनों भागने से पहले ही पकड़ेे गए। जमोड़ी पुलिस ने दोनों पक्षो के परिजनों को थाने बुलाया। वहीं युवक व युवती को भविष्य में ऐसी गलती नहीं करने को लेकर समझाइश दी। वहीं दोनों को उनके-उनके परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

इनका कहना है
हाइवे पेट्रोलिंग के दौरान पुलिस ने युवक-युवती को संदिग्ध के आधार पर रोका,पूछताछ के बाद पता चलता है कि युवती अपने घर से भाग कर युवक के साथ शादी रचाने जा रहे थे। तब उनके परिजन को बुलाकर उन्हे सुपुर्द किया गया है। पेट्रोलिंग मे पुलिस ऐसे संदिग्धो पर लगातार नजर रखती है ताकि कोई अनहोनी न होने पाए, लेकिन परिजन को भी अपने घर के सदस्यों की जानकारी व समय-समय पर पूछ परख करते रहनी चाहिए।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Allow me