FEATUREDभारतमध्यप्रदेश

Singrauli: हिंडालको महान ने आर्थिक बचत व बैकिंग धोखे से बचाव हेतु वित्तीय साक्षरता व जागरूकता चौपाल का किया आयोजन

 

पोल खोल पोस्ट

सिंगरौली। हिंडालको महान द्वारा निगमित सामाजिक दायित्व के तहत ग्राम बड़ोखर, भलुगढ़,धरसड़ा, व सज़हर ग्राम में वित्तीय साक्षरता व जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया ,जिसमे हिंडालको महान के वरिष्ठ प्रबंधको के गणमान्य उपस्थिति में यह चौपाल आयोजित हुआ ,इसमे हिंडालको महान के पर्यावरण विभाग से उत्पल सरकार, सुरक्षा विभाग से पवलजीत सिंह, देवेंद्र ओमकार,व वित्त विभाग से सरोज पाणिग्रही व यूनियन बैंक से भूपेंद्र तिवारी ने आम जनों को सरकार के हितकारी योजनाओं व सही जगह निवेश कर अल्प बचत से भी बेहतर लाभ देने वाली योजनाओं से अवगत कराया।कार्यक्रम का संचालन करते हुये सी.एस.आर.विभाग से बीरेंद्र पाण्डेय ने बताया कि,आर. बी.आई. का निर्देश है कि पूरे देश में लोगों को वित्तीय साक्षरता का पाठ पढ़ाया जाय,जिसके तहत ना सिर्फ उन्हें वित्तीय फ्राड से बचने के तरीके बताए जाय,सरकार की योजनाओं को भी आम जनों तक पहुचाया जाय।
आर.बीआई.के निर्देश पर नवम्बर माह में पूरे देश के लोगो को वित्तीय साक्षरता का पाठ पढ़ाया जा रहा है, साथ ही किस तरह से बचत करें व अल्प बचत से संबंधित अन्य शासकीय योजनाओं से अवगत कराना इस कार्यक्रम का उद्देश्य है।

वही कार्यक्रम में उत्पल सरकार ने लोगो को जागरूक करते हुये कहा कि इस अभियान का एक मकसद घरेलू बचत के स्तर को सुधारना भी है। एक आकलन यह भी है कि हर घर में बैंक खाता खुलने के बावजूद बड़ी संख्या में लोग अभी भी नकदी घरों में रखते हैं। वही कार्यक्रम में सुरक्षा विभाग से देवेंद्र व पवलजीत ने अपने विचार रखते हुये बताया कि मोबाइल में लॉटरी लगने वाले फोन अक्सर आते हैं और लालच में आकर लोग काफी पैसा लुटा देते हैं,इस लिये इस तरह के फोन कॉल से शातिर सायबर लुटेरों से बचें,जागरूक बने,क्योकि जानकारी ही बचाव है। वही कार्यक्रम में हिंडालको महान के वित्त प्रमुख सरोज पाणिग्रही ने बताया कि आर्थिक खुशहाली लाने के उद्देश्य से उठाया गया है, यह कदम सरकार के माध्यम से सही हितग्राहियों तक पहुचने में फायदेमंद हुआ है,क्योंकि अब इस योजना के तहत ही सरकार की कई स्कीमों की राशि सीधे ग्राहकों तक पहुंच रही है।

ऐसे में सरकार चाहती है कि वित्तीय समावेश की इस योजना का और ज्यादा विस्तार हो और देश की गरीब जनता को उनके बचत पर ज्यादा रिटर्न सुनिश्चित हो और वो किसी भी तरह के वित्तीय फ्राड से अपनी रक्षा कर सकें ।कार्यक्रम के अंत मे यूनियन बैंक के वित्तीय साक्षरता कॉर्डिनेटर भूपेंद्र तिवारी ने लोगो को अपरिचित लोगो को अपना बैंक डिटेल न देने व बैंक के नाम से फोन करने वालो से दूर रहने व मोबाइल में आये हुये ओ.टी.पी.को दूसरे को बताने से बचे,और एक मुश्त पैसा एक ही बैंक में रखने के बजाय अलग बचत योजनाओं में निवेश की सलाह दी।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Allow me