FEATUREDभारतमध्यप्रदेश

Singrauli: एनटीपीसी-विंध्याचल का 41वां स्थापना दिवस समारोह भव्य आयोजन के साथ हुआ सम्पन्न

पोल खोल पोस्ट

सिंगरौली। एनटीपीसी-विंध्याचल परियोजना मेँ दिनांक 12 नवंबर, 2022 को एनटीपीसी-विंध्याचल के 41वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रशासनिक-भवन परिसर मेँ आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्य महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) श्री ई सत्य फनी कुमार ने एनटीपीसी ध्वजारोहण किया और सभी ने एनटीपीसी गीत गाया। साथ ही महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) श्री ई सत्य फनी कुमार एवं अन्य महाप्रबंधकगणों ने केक काटकर हवा मेँ गुब्बारे छोड़े और अपना हर्षोल्लास व्यक्त किया। इस शुभ अवसर पर एनटीपीसी विंध्याचल के अपर महाप्रबंधक, विभागाध्यक्ष/अनुभागाध्यक्ष, उपाध्यक्षा सुहासिनी संघ श्रीमती सरोजा फनी कुमार एवं सुहासिनी संघ की पदाधिकारीगण, असिस्टेंट कमांडेंट सीआईएसएफ श्री अजित कुमार टोप्पो, यूनियन/एसोसिएशन के पदाधिकारीगण कर्मचारी एवं उनके परिवारजन उपस्थित रहें।

अपने उद्बोधन में मुख्य महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) श्री ई सत्य फनी कुमार ने कहा कि 12 नवंबर, 1982 को तत्कालीन प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्रीमती इंदिरा गांधी के कर-कमलों से हमारी परियोजना की नींव रखी गई थी। 01 सितंबर, 1987 को एनटीपीसी-विंध्याचल की प्रथम यूनिट 1X210 मेगावाट का कामर्शियल आपरेशन आरंभ हुआ। विगत वर्षों में एनटीपीसी विंध्याचल ने उत्पादन क्षमता को कई गुना बढ़ाया है और आज एनटीपीसी ही नहीं, अपितु राष्ट्र की विशालतम विद्युत परियोजना होने के भाव से अभिभूत हैं। शून्य से लेकर 4783 मेगावाट के माइल-स्टोन को प्राप्त करने के लिए विंध्याचल के कर्मठ कर्मचारियों ने विपरीत परिस्थितियों में असीम धैर्य, त्याग, तपस्या और बलिदान दिया है। विंध्याचल परियोजना ने प्लांट प्रदर्शन एवं विद्युत उत्पादन के क्षेत्र में कई बेंच-मार्क स्थापित किए हैं। उन्होनें कहा कि पर्यावरण में सुधार की दिशा में कदम उठाते हुए, हमने यूनिट 13 में 100% फ्लू गैस कंडीशनिंग के लिए देश की पहली फ्लू गैस डिसल्फराइजेशन प्रणाली स्थापित की है और अन्य सभी 12 इकाइयों में FGD स्थापना का काम जोरों पर है और CPCB दिसंबर 2024 की समय सीमा से पहले पूरा कर लिया जाएगा।

मुख्य महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) ने कहा कि हम अपने संयंत्र में कार्बन डाइऑक्साइड को मेथनॉल प्लांट में स्थापित कर रहे हैं, बिजली के उत्पादन के साथ-साथ पर्यावरण संतुलन का विशेष ध्यान रखते हुए, जो न केवल भारत बल्कि दुनिया का पहला संयंत्र है जो प्रति दिन 20 टन CO2 अवशोषित करता है और 10 टन मेथनॉल का निर्माण करता है।

इस अवसर पर मुख्य महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) महोदय एवं सभी महाप्रबंधकगणों ने कर्मचारियों का मनोबल बढ़ाने और उनके बहुमूल्य योगदान की सराहना करने के उदेश्य से कई पुरस्कार प्रदान किए। इसी क्रम में एनटीपीसी विंध्याचल के 05 कर्मचारियों श्री तेजबली पाण्डेय, श्री रामबचोले कुशवाहा, श्री राम गोविंद साहू, श्री रमेश प्रसाद उपाध्याय एवं श्री शिवशरण शर्मा के 39 वर्ष का कार्यकाल सफलतापूर्वकपूर्ण होने के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। साथ ही स्पेन में आयोजित अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता Global Management challenge के विजयी प्रतिभागियों श्री सेनगुट्टुवन पीजे, श्री ए एल मोहम्मद इदरीस और श्रीमती दुर्गा संपतकुमार को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया।

इसके अतिरिक्त इस अवसर पर आईटी विभाग द्वारा आयोजित साइबर सिक्युर्टी जागरूकता प्रतियोगिता के विजयी प्रतिभगियों को पुरस्कृत किया गया एवं सुरक्षा विभाग द्वारा कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ प्रबन्धक मानव संसाधन श्रीमती कामना शर्मा तथा धन्यवाद ज्ञापन महाप्रबंधक (मानव संसाधन) श्री प्रबीर कुमार बिस्वास ने किया ।

 

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Allow me