FEATUREDभारतमध्यप्रदेश

Satna : उर्पाजन केंद्रो में सभी आवश्यक संसाधनो की पूर्ति करायेंः संस्कृति जैन

 

खाद्य, सहकारिता एवं उपार्जन संबंधी बैठक

पोल खोल सतना

राज्य शासन के निर्देशानुसार खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में धान की खरीदी 28 नवंबर से 16 जनवरी 2023 तक निर्धारित केंद्रों में की जाएगी। अपर कलेक्टर संस्कृति जैन ने खाद्य, सहकारिता और उपार्जन संबंधी समीक्षा बैठक में सभी धान खरीदी केंद्रों में पूर्व से ही सभी आवश्यक संसाधनों की पूर्ति और तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत डॉ परीक्षित झाड़े, जिला खाद्य अधिकारी केके सिंह, सहायक आपूर्ति अधिकारी केएस भदौरिया, महाप्रबंधक केंद्रीय सहकारी बैंक सुरेशचंद्र गुप्ता, जिला प्रबंधक वेयरहाउस आरके शुक्ला सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

उपार्जन संबंधी तैयारी बैठक में बताया गया कि इस वर्ष 2040 रुपए प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की जाएगी। जिले में धान खरीदी के लिए 138 खरीदी केंद्र प्रस्तावित किए गए हैं। धान खरीदी के लिए 1 लाख 31 हजार 302 हेक्टेयर रकबा पंजीकृत किया गया है। 74 हजार 799 किसान सत्यापित किए गए हैं और 1 लाख 27 हजार 452 हेक्टेयर रकबा सत्यापित किया गया है।

जिले में इस वर्ष 4.5 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी अनुमानित है। खरीदी केंद्रों में 38 गोदाम स्तरीय खरीदी केंद्र प्रस्तावित है। जिला प्रबंधक वेयरहाउसिंग ने बताया कि भंडारण क्षमता 5.32 लाख मीट्रिक टन की उपलब्ध है। जिनमें 2 लाख 20 हजार एमटी स्वयं के संसाधन, 24 हजार एमटी किराये के गोदाम और 1 लाख 36 हजार 500 मीट्रिक टन कैप की क्षमता होगी।

अपर कलेक्टर संस्कृति जैन ने धान खरीदी प्रारंभ होने से पूर्व जिले के सभी खरीदी केंद्रों में डिवाइस, कंप्यूटर ऑपरेटर, तराजू, बाट-कांटा, वेइंग मशीन, मॉइश्चर मीटर, बारदाना, परिवहन मैपिंग एवं किसानों की सुविधाओं के लिए सभी आवश्यक प्रबंध और व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Allow me