FEATUREDभारतमध्यप्रदेश

Sidhi : खबर प्रकाशन बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं पर हुई कार्यवाही

दिखा खबर का असर

पोल खोल सीधी

मझौली महिला बाल विकास विभाग परियोजना मझौली अंतर्गत नगर क्षेत्र मझौली में संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों का मीडिया टीम द्वारा 29 नवम्बर को जायजा लिया गया जहां कई आंगनबाड़ी केंद्रों में लापरवाही देखी गई जिसे प्रमुखता से समाचार प्रकाशित किया गया जिस पर परियोजना अधिकारी मझौली के द्वारा भी पर्यवेक्षक से जांच कराया गया जिसमें आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका की लापरवाही प्रमाणित हुई जिस कारण परियोजना अधिकारी मझौली द्वारा माह नवंबर 2022 के मानदेय में से तीन दिवस का मानदेय काटने का आदेश जारी किया गया है साथ में चेतावनी दी गई है कि अगर भविष्य में ऐसी लापरवाही की पुनरावृत्ति होती है तो आगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका पद से सेवा समाप्ति की कार्यवाही की जाएगी।

आदेश में हवाला दिया गया है कि समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों के अनुसार 29 नवंबर को कई आंगनबाड़ी केंद्र संचालन में कार्यकर्ता एवं सहायिका के द्वारा अनियमितता देखी गई। प्रकाशित खबर के संदर्भ में पर्यवेक्षक से जांच कराई गई जिसके द्वारा प्रमाणित किया गया कि कार्यकर्ता एवं सहायिका के द्वारा केंद्र संचालन में लापरवाही प्रमाणित की गई जिस पर दंड स्वरूप नवंबर माह के मानदेय में से सभी का तीन दिवस का मानदेय काटने का आदेश जारी किया गया है।

इन पर हुई कार्यवाही

आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 5 कार्यकर्ता गरिमा सोनी एवं सहायिका प्रतिमा सिंह, आंगनवाड़ी केंद्र क्रमांक 7 कार्यकर्ता नूरजहां खान सहायिका चांदनी खान, आंगनवाड़ी केंद्र क्रमांक 8 कार्यकर्ता अन्नू सोनी सहायिका उषा सोनी।

परियोजना अधिकारी के कार्यप्रणाली पर उठ रहे सवाल स्थानीय लोगों की माने तो कई ऐसे आंगनवाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका है जो केंद्र छोड़कर महीनो बिना किसी सुचना के नदारद रहती हैं और माह में महज 1 या 2 दिन केंद्र में हस्ताक्षर करने आती हैं लेकिन ना तो उन पर कार्यवाही होती है और ना ही उन पर कोई अंकुश लगाने में परियोजना अधिकारी सफल हो पा रहें है

आखिर मीडिया के दखल के बाद आंशिक कार्यवाही का किया जाना उनके कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा करता है क्योंकि अगर मुख्यालय क्षेत्र के आंगनबाड़ी केंद्रों में इस तरह लापरवाही हो रही है तो ग्रामीण क्षेत्रों के दूरदराज वाले केंद्रों का किस तरह संचालन होता होगा जिसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button