मध्यप्रदेश

नववर्ष पर पूजा-अर्चना करने मंदिरों में उमड़ी भीड़,रविवार का दिन होने से जश्न में हुआ इजाफा,नव वर्ष के जश्र में जिलेभर में डूबा रहा युवा वर्ग।

नववर्ष पर पूजा-अर्चना करने मंदिरों में उमड़ी भीड़,रविवार का दिन होने से जश्न में हुआ इजाफा,नव वर्ष के जश्र में जिलेभर में डूबा रहा युवा वर्ग
सीधी
कल नववर्ष 2023 के प्रथम दिन जिले भर के प्रसिद्ध मंदिरों में सुबह से ही लोगों का तांता पूजा-अर्चना के लिए लगा रहा। नववर्ष का शुभारंभ अच्छे से हो इसके लिए लोगों ने दुआएं मांगी। जिला मुख्यालय में राम जानकी मंदिर, पूजा पार्क स्थित श्रीगणेश मंदिर, गायत्री शक्तिपीठ, सांई मंदिर, फूलमती मंदिर, हनुमान मंदिर बस स्टैण्ड, दुर्गा मंदिर बस स्टैण्ड में पूजा अर्चना के लिए भीड़-भाड़ बनी रही। काफी संख्या में लोग शाम को भी यहां पूजा-अर्चना के लिए पहुंचे। जिला मुख्यालय के समीपी बढ़ौरा शिव मंदिर, बटौली देवी मंदिर एवं घोघरा मंदिर में भी काफी संख्या में श्रद्धालु नववर्ष की खुशियों की मन्नतें मांगने पहुंचे। नववर्ष के आगाज के साथ ही लोगों की धार्मिक भावनाएं खुलकर सामने आई। सीधी जिले के लिए नववर्ष 2023 नई सौगातों से भरा रहे इसको लेकर नववर्ष की शुभकामनाएं देने का दौर भी आज सुबह से ही शुरू रहा। नववर्ष की शुभकामनाएं देने के लिए युवा वर्ग वाटसएप्प एवं फेसबुक पर व्यस्त रहे। वहीं आज युवाओं ने नववर्ष के उपलक्ष्य में जश्र मनाने के लिए विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया। वहीं राजनैतिक दलों से संबंद्ध कई नेतागणों ने लोगो के बीच पहुंचकर भी नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए अपनी उपस्थिती दर्ज कराई।
रविवार का अवकाश आज नव वर्ष के प्रथम दिन होने के कारण शासकीय कार्यालयों एवं शैक्षणिक संस्थान बंद रहे फिर भी कर्मचारी वर्ग एवं विद्यार्थियों द्वारा व्हाट्सएप के माध्यम से एक दूसरे को नव वर्ष की शुभकामनाएं दी। नव वर्ष पर कुछ लोगों द्वारा अपने घर में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसके चलते देर रात तक नव वर्ष की बधाईयों को बांटने का सिलसिला अनवरत रूप से चलता रहा। नव वर्ष के चलते होटलों में भी पार्टी कार्यक्रम देने का दौर चलता रहा। दोपहर से लेकर देर रात तक नव वर्ष की पार्टियों में लोगों की भीड़भाड़ बडे होटलों में देखनें को मिली। नव वर्ष के उपलक्ष्य में काफी संख्या में लोग जिले से बाहर भी पिकनिक एवं सैर सपाटे के लिए परिवार के साथ तो कुछ मित्रों के साथ गए हुए थे। कुछ लोग मोहनिया टनल एवं मुकुन्दपुर जू सफारी का आनंद लेने के लिए भी गए हुए थे। कुल मिलाकर नव वर्ष को प्रथम दिन ही रविवार का अवकाश होने के कारण अधिकारी एवं कर्मचारी भी अपने परिवार के साथ अलग-अलग कार्यक्रमों में व्यस्त देखे गए। नव वर्ष को लेकर गरीब से लेकर अमीरों तक में उत्साह नजर आया। सभी अपने स्तर से नव वर्ष की खुशियों को बांटने में लगे हुए थे। साथ ही यह भी अपेक्षा कर रहे थे कि नया वर्ष सभी लोगों के लिए मंगलमय हो। लोगों के जीवन में खुशियों की बहार आए और सभी सपने पूरे हों।
बरचर आश्रम व अष्टभुजी में भक्तों का तांता 
भाग दौड़ और व्यस्त जीवन से कुछ छण निकालकर घर परिवार और दोस्तों के बीच नए साल की शुरुआत नए ढंग से करते हुए इसकी यादों को सहेजने की चाहत हर किसी मे समाई हुई थी। कुसमी क्षेत्र के धार्मिक एवं ऐतिहासिक स्थल लोगों की पहली पसंद का स्थान है। नए वर्ष के सूर्य की प्रथम किरणों का स्वागत करने लोगों ने प्रकृति की वादियों एवं धार्मिक स्थलों के बीच रविवार को अंग्रेजी वर्ष के नया साल 2023 के अवसर पर कुसमी अंचल के प्रमुख धार्मिक स्थलों में भारी भीड़ देखी गयी सुप्रसिद्ध धार्मिक स्थल बरचर आश्रम में स्वामी अडग़ड़ानंद जी महाराज के दर्शन के लिए सुबह से ही कड़ाके की ठंड और घने कोहरे के बीच कई हजारों भक्त जनों ने दर्शन कर स्वामी जी के मुखारबिंद से सत्संग का रस पान किये वहीं गोतरा में विराजीं अष्ठभुजी माता के दर्शन हेतु मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ बनी रही। वहीं तुर्रानाथ जूरी, कुसमी के बड़वाही, देवरी के बाबाधाम में लोगों ने दर्शन कर लोगों ने नए साल की शुरुआत किये। बरचर आश्रम मे मध्यप्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल सहित अन्य राज्यों के भक्तगण भी पहुंचे।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button