मध्यप्रदेश

मतदाता की पहचान के लिए 23 दस्तावेज होंगे मान्य।

मतदाता की पहचान के लिए 23 दस्तावेज होंगे मान्य।

सीधी 03 जनवरी 2023
जिले में पंचायत आमध्उप निवार्चन वष 2022 ;उत्तरादर््धद्ध के लिए मतदान 05 जनवरी 2023 को होगा। मतदाता की पहचान सुनिश्चित होने पर ही उसे मताधिकार के उपयोग का अवसर मिलेगा। राज्य निवार्चन आयोग द्वारा मतदाताओं की पहचान सुनिश्चित करने के लिए 23 तरह के दस्तावेजों को मान्यता दी गई है। इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला निवार्चन अधिकारी साकेत मालवीय ने बताया कि पंचायत निवार्चन में मतदाता को मताधिकार के उपयोग के लिए 23 दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज प्रस्तुत करना आवश्यक होगा। पहचान सुनिश्चित होने के बाद ही अपने मताधिकार का उपयोग कर पाएगा।

राज्य निवार्चन आयोग द्वारा पहचान के लिए निधार्रित 23 दस्तावेजों में राज्य निवार्चन आयोग द्वारा जारी मतदाता पचीर्ए भारत निवार्चन आयोग जारी मतदाता पहचान पत्रए आधार काडर्ए भू.अधिकार एवं ऋण पुस्तिकाए सभी तरह के राशन काडर्ए बैंक अथवा डाकघर की पासबुकए शस्त्र लायसेंसए सम्पत्ति दस्तावेज जैसे.पट्टाए रजिस्ट्रीकृत अभिलेख का उपयोग किया जा सकता है। इसके साथ.साथ विकलांगता प्रमाण.पत्रए निराश्रित प्रमाण.पत्रए तेंदूपत्ता संग्राहक पहचान पत्रए सहकारी समिति का अंश प्रमाण.पत्रए किसान क्रेडिट काडर्ए पासपोटर्ए ड्रायविंग लायसेंसए आयकर पहचान पत्र पैन काडर्ए केन्द्र अथवा सरकार सावर्जनिक क्षेत्र के उपक्रमए स्थानीय निकाय या अन्य निजी औद्यौगिक घरानों द्वारा उनके कमर्चारियों को जारी पहचान पत्रए छात्र पहचान पत्रए सक्षम अधिकारी द्वारा जारी जाति प्रमाण पत्रए पेंशन दस्तावेजए रेलवे पहचान पत्र और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पहचान पत्र तथा रोजगार गारंटी योजना से जारी फोटोयुक्त जॉब काडर् मतदाता की पहचान के लिए मान्य होंगे। कलेक्टर ने बताया कि पीठासीन अधिकारी ऐसा कोई अन्य अभिलेख भी स्वीकार कर सकेंगे जिससे वह मतदाता की पहचान के संबंध में संतुष्ट हो सके। यदि कोई मतदाता दस्तावेज प्रस्तुत करने पर असफल रहता है तो पीठासीन अधिकारी स्थानीय कोटवारए पटवारीए शिक्षकए आंगनवाड़ी कायर्कतार्ए आंगनवाड़ी सहायिका इत्यादि कमिर्यों या किसी प्रतिष्ठित स्थानीय निवासी से उसकी पहचान स्थापित करने के उपरांत उसे मतपत्र प्रदान कर सकेंगे।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button