मध्यप्रदेश

राष्ट्रीय आदिवासी दलित महासभा ने तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन।

राष्ट्रीय आदिवासी दलित महासभा ने तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

अमात श्रीवास्तव कुसमी

सीधी जिले के कुशमी जनपद पंचायत के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के मैदान में राष्ट्रीय दलित आदिवासी महासभा का धरना प्रदर्शन किया था जिसमें तहसील कुसमी तक रैली का आयोजन किया गया ,उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन तहसीलदार रोहित सिहं परिहार को सौंपा है। जिसमें प्रमुख मांग है कि बैगा समाज को उमरिया डिंडोरी बालाघाट मंडला अनूपपुर शहडोल की तरह जिला सीधी को भी बैगा जनजाति का दर्जा दिया जाए, और पोषण आहार ₹1हजार प्रति महिला दिया जाए, हर भूमिहीन गरीब आदिवासी परिवार को 5 एकड़ जमीन एवं ₹5हजार दिया जाय, विशेष पिछड़ी जनजाति को मध्यप्रदेश शासन की विभिन्न विभागों के तृतीय श्रेणी कार्यपालिक पदों पर कार्यपालिक पदों की भर्ती प्रक्रिया अपनाए बिना उक्त पद पर नियुक्त की जाए,आदिवासी बेरोजगार पढ़े-लिखे बच्चों को सरकार या तो नौकरी दे या जब तक नौकरी नहीं देती है उन्हें ₹10हजार भत्ता दिया जाए जिससे वह अपना परिवार चला सके ,

बैगा जनजाति के गांव में संपूर्ण विकास होना चाहिए जैसे स्कूल कोटा आगनवाड़ी पानी की व्यवस्था की जाए, ग्राम कोटा में आज तक आगनवाड़ी की सीट खाली है जबकि आदिवासियों में पिछड़ी बैगा जनजाति की पढ़ी-लिखी महिला को प्राथमिकता के साथ तुरंत भर्ती किया जाए, जिससे वहां के आदिवासी बच्चों का विकास हो सके ,ग्राम ताल में आजादी के 76 वर्ष बाद भी आज तक विद्युतीकरण नहीं हुआ है कभी सोलर प्लांट से लाइट मिलती थी मगर 3 साल से वहां सोलर प्लांट नाम पर भी कुछ शेष नहीं है जल्द से जल्द लाइट की व्यवस्था की जाए ,पहुंच विहीन क्षेत्र डेवा में हायर सेकेंडरी स्कूल एवं खबर में हाई स्कूल खोला जाए जिससे आदिवासी छात्र कई किलोमीटर की यात्रा शाला त्यागी होने से बचे सहित मांगे मुख्यमंत्री से की गई है।संगठन ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन तहसीलदार कुसमी रोहित सिंह परिहार को ज्ञापन दिया है।इसके साथ साथ एसडीएम के नाम से बना क्षेत्रीय समस्याओ का ज्ञापन सौप दिया है।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button