मध्यप्रदेश

जीना इसी का नाम है,खाकी का एक ऐसा भी रूप,पुलिस ने कायम की मानवता की मिसाल।

जीना इसी का नाम है,खाकी का एक ऐसा भी रूप,पुलिस ने कायम की मानवता की मिसाल।

सीधी भुईमाड़। सीधी जिले के भुईमाड़ थाना प्रभारी ने अपनी दरियादिली की मिसाल पेश की है, गौरतलब है कि पुलिस को हमेशा से ही लोगों मे देखने का अलग नजरिया रहा है, लेकिन ऐ खबर पढकर आप भी सोचने पर मजबूर हो जाओगें कि क्या इस तरह से पुलिस के द्वारा दरियादिली भी दिखाई जा सकती हैं,खाकी का एक ऐसा भी रूप कि अगर बात करूं तो आयें दिन खबर सामने आती रहती हैं कि आमजन को पुलिस के द्वारा नाजायज तरीकें से परेशान किया जाता हैं, लेकिन मध्यप्रदेश के सीधी जिले भुईमाड़ पुलिस जो हमेशा नेक कार्यों के लिए जानी जाती रही हैं, वो एक बार कुछ इस तरह से भुईमाड़ थाने के थाना प्रभारी आकाश सिंह राजपूत ने अपने दरियादिली की मिशाल कायम की है जानकारी के लिए आपको बता दू कि देंगे मनमोहन सिंह पिता छविलाल सिंह निवासी बेंदो तहसील कुशमी जिला सीधी मध्यप्रदेश उम्र 65 वर्ष करीबन जिसकी मृत्यु बीमारी के कारण सीधी जिले के सटे सिंगरौली मे अपने बेटी दमाद के घर में हो गई थी, जिसके बाद उनके परिजनों द्वारा शव वाहन के लिए संपर्क किया तो पता चला शव वाहन देरी से मिल पाएगी जिसके बाद परिजनों के द्वारा शव को चारपाई पर ही रख चल दिये जैसे ही शव को लेकर सीधी जिले में प्रवेश किये वैसे ही भुईमाड़ थाना प्रभारी आकाश सिंह राजपूत इसकी जानकारी मिली जानकारी प्राप्त होते ही बिना देर किये उन्होंने वाहन की व्यवस्था करने मे जुट वाहन की व्यवस्था मे देरी देख थाना प्रभारी के द्वारा थाने के शासकीय वाहन से शव को मृतक के घर पहुचवाने का निर्णय लिया,और फिर जैसे ही शासकीय वाहन मे शव रखें वैसे ही पाइवेट गाडी से शव को मृतक के घर तक पहुचंवाने का कार्य किया गया, जिसकी चर्चा क्षेत्र में जोरों से हो रही हैं, वास्तव में जीना इसी का नाम है, पूर्व में भी विशेष अवसरों पर भुईमाड़ थानें मे कन्या भोज एवं रामायण,सुंदरकांड जैसे पुण्य कार्य के आयोजन किया जाता रहा है, आपको बता दें कि जब से थाना भुइमाड़ की कमान आकाश सिंह राजपूत ने संभाली हैं तब से क्षेत्र में आपराधिक घटना पर नियंत्रण हैं एवं उपद्रवियों मे भय बना रहता है, तो वही थाना प्रभारी के द्वारा थाना परिसर में हरी-भरी सब्जियां उगने लगीं एवं फूल खिलने लगे ,

थाना प्रभारी ने की अपील!

आम जनता से थाना प्रभारी भुईमाड़ आकाश सिंह राजपूत ने की विनम्र अपील है कि ब्रम्हलीन शव को खाट, हाँथ ठेला,पर ले जाने जैसी चीजें देखे तो शव को उचित सम्मान देते हुए संवेदना रखते हुए हर सम्भव मदद करने का प्रयास करें।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button