मध्यप्रदेश

ठंड में लोगों की बढ़ी मुसीबत, पूरा मोहल्ला पानी से हुआ जलमग्न नहीं दिखे ज़िम्मेदार अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि…

ठंड में लोगों की बढ़ी मुसीबत, पूरा मोहल्ला पानी से हुआ जलमग्न नहीं दिखे ज़िम्मेदार अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि..

सीधी सिंहावल। आइए बताते हैं सिहावल विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत हिनौती का विकास की गति।
जी हां हम बात कर रहे हैं सिहावल विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत हिनौती में एक ऐसा मामला सामने नजर आया है जहां एक तरफ लोग एक एक बूंद पानी को तरसते हैं वही पूरे मोहल्ले में नल जल योजना से बनी पाइपलाइन घटिया निर्माण होने के कारण मुहल्ले भर में नहर बह चुकी है। और लोग इस नहर से काफी मुश्किलों से गुजर रहे हैं।
आपको बताते चलें कि नल जल योजना का इतना घटिया निर्माण कार्य कराया गया कि राजगढ़ सहित हिनौती ग्राम पंचायत में पैदल चलना दुश्वार हो गया। आए दिन रोड पर दुर्घटना होने का खतरा बना रहता है।

बिना देखरेख की नवनिर्वाचित सरपंच सचिव ने नल जल योजना की सप्लाई ली हैंडोवर

इस विषय को लेकर जब मैं संपर्क करना चाहा पंचायत सचिव सरपंच से तो उनके द्वारा फोन रिसीव करना उचित नहीं समझा गया। वही जब संपर्क रोजगार सहायक से हो पाया तो दूरभाष के माध्यम से बताया गया कि यह नल जल योजना की पाइपलाइन सप्लाई के लिए बिछाई गई थी जिसका घटिया निर्माण कार्य हुआ था। बिना परख किए ही हमारे सरपंच सचिव ने हैंड ओवर ले लिया जिसका खामियाजा आज क्षेत्र की जनता को भुगतना पड़ रहा है। मेरी बात सचिव से हुई है जल्द ही इसका निराकरण करवाते हैं।
रोजगार सहायक ग्राम पंचायत हिनौती राम बिहारी पटवा।

चुनाव में बड़े-बड़े वादे करने वाले जनप्रतिनिधि कुर्सी पाते ही हुए लापता

आपको बताते चलें कि हाल ही में हुए चुनाव में बने नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों के द्वारा चुनाव से पहले इतने बड़े बड़े वादे और घोषणाएं किए गए जो आज खोखले नजर आ रहे हैं। और नतीजा यह देखने को मिल रहा है की लोग घोर समस्या से जूझ रहे हैं। पर राजनेताओं को यह सब नजर नहीं आता।

समस्या से जूझ रहे ग्रामीणों ने दूरभाष के माध्यम से पोल खोल पोस्ट संवाददाता राजबहोर केवट से अपनी पूरी समस्या बताई तब उनसे जानकारी लेनी चाहिए तो उनके द्वारा बताया गया कि पूर्व में हुए चुनाव के बड़े-बड़े राजनेता एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा बड़ी-बड़ी घोषणाएं की गई साथ में प्रलोभन भी दिया गया लेकिन आज खोखला नजर आ रहा है। हमारी बस्ती में पूरी तरह से जलमग्न हो चुका है हिनौती मेन रोड से लेकर कब्रिस्तान तक जाने के लिए दलदल एवं कीचड़ युक्त रास्ते से गुजरना पड़ता है लेकिन क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि को कुर्सी मिलने के बाद यह सब कुछ दिखाई नहीं नजर आ रहा है। यह बात मेरे द्वारा आपके चैनल के माध्यम से जिले के वरिष्ठ अधिकारियों को ध्यानाकर्षण किया जा रहा है इससे निदान मिल पाता है या नहीं लेकिन नल जल योजना के तहत कार्य कराने वाले ठेकेदारों की मनमानी का खामियाजा हम ग्रामीण वासियों को भुगतना पड़ रहा है। जिसका कारण है राजनैतिक संरक्षण है। जब किसी ठेकेदार को राजनैतिक संरक्षण भरपूर मिल जाता है तो उसके द्वारा पेटी 2 पेटी या फिर स्वयं निर्माण कार्य में घटिया कार्य करने की प्रवृत्ति सामने नजर आती है। अब देखना दिलचस्प होगा कि इस तरह के घटिया निर्माण कार्य कराने वाले ठेकेदार के ऊपर राजनीतिक दलों एवं संबंधित अधिकारी कर्मचारियों की नजर पड़ती है या राजनीतिक रोटियां सेकने तक ही सीमित रह जाती है। नेस्ट अपडेट के लिए बने रहे राजबहोर केवट पोल खोल पोस्ट संवाददाता के कलम के साथ।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button