मध्यप्रदेश

जिला पंचायत सदस्य के घर में घुसकर हुई मारपीट,आरोपियों की मारपीट में तीन लोग हुए घायल। 

जिला पंचायत सदस्य के घर में घुसकर हुई मारपीट,आरोपियों की मारपीट में तीन लोग हुए घायल। 
भितरी पंचायत में चुनावी चर्चा को लेकर हुई मारपीट  
सीधी 
जिला पंचायत सदस्य के घर में घुसकर चुनावी मामले को लेकर सरहंग आरोपियों ने मारपीट करते हुए जमकर तोडफ़ोड़ की। तोडफ़ोड़ में जिला पंचायत नीलम शुक्ला समेत तीन लोग घायल हो गए। दरअसल ग्राम पंचायत चुनाव को लेेकर हो रही चर्चा के दौरान बात बढऩें पर मारपीट शुरू हो जाने से तीन लोग घायल हो गए। घायलों की रिपोर्ट पर रामपुर नैकिन थाना पुलिस ने चार आरोपियों के विरुद्ध आपराधिक मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।
मिली जानकारी के अनुसार 5 जनवरी की रात करीब 11 बजे भितरी गांव में पंचायत चुनाव को लेकर चल रही चर्चा के दौरान अचानक मारपीट शुरू हो गई। इसके अलावा घर के अंदर घुसकर भी तोडफ़ोड़ की गई। घटना के बाद घायल धीरेन्द्र शुक्ला पिता यादवेन्द्र शुक्ला निवासी भितरी सिगमा टोला की रिपोर्ट पर आरोपी उमेश शुक्ला, नीटू उर्फ प्रतेश शुक्ला, लवकुश पाण्डेय, आकाश सिंह के विरुद्ध धारा 294, 323, 506, 34 आईपीसी के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। धीरेन्द्र शुक्ला ने रिपोर्ट में कहा है कि घटना के वक्त वो गोपालपुर से अपने घर लौट रहे थे। जैसे रिंकू शुक्ला के घर के पास पहुंचे वहां काफी भीड इकट्ठा थी। जिला पंचायत सदस्य नीलम शुक्ला एवं मोहित कुमार शुक्ला को चुनावी बात को लेकर उमेश शुक्ला, नीटू शुक्ला, लवकुश पाण्डेय, आकाश सिंह मारपीट कर रहे थे। उसके द्वारा जब मौके पर रुककर बीचबचाव किया गया तो उसके साथ भी मारपीट शुरू कर दी गई। मारपीट में उसके सिर में चोटें आई हैं तथा हांथ एवं पीठ में भी सूजन है। नीलम शुक्ला के सिर, मोहित कुमार शुक्ला के बांयें हांथ, बांये पैर में चोटे आई हैं। पुलिस द्वारा रिपोर्ट के बाद घायलों को उपचार के लिए भी स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। पुलिस द्वारा चुनाव को लेकर हुई मारपीट के मामले में जल्द विवेचना शुरू करनें की तैयारी की जा रही है। जिससे आरोपियों के विरुद्ध समय पर आवश्यक कार्यवाई सुनिश्चित हो सके। तत्संबंध में स्थानीय लोगों का कहना है कि आरोपी इतने दबंग थे कि इनके द्वारा जिला पंचायत सदस्य के साथ मारपीट के अलावा उनके घर के अंदर घुसकर भी तोडफ़ोड़ की गई। जिससे रसोई घर में रखे सामानों के अलावा अन्य काफी सामान  भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। पुलिस द्वारा इस मामले को गंभीरता से लेकर त्वरित विवेचना शुरू की जाए। जिससे क्षेत्र में बना तनाव कम हो सके।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button