मध्यप्रदेश

बिजली कर्मचारियों की वार्ता के बाद आंदोलन हुआ स्थगित।

बिजली कर्मचारियों की वार्ता के बाद आंदोलन हुआ स्थगित,आउटसोर्स व संविदा कर्मचारी 6 जनवरी से आंदोलन का दिया ज्ञापन।

सीधी मझौली
मध्य प्रदेश विद्युत मंडल तकनीकी कर्मचारी संघ, मध्य प्रदेश आउटसोर्स बिजली कर्मचारी संगठन,मध्य प्रदेश बाह्य स्रोत विद्युत कर्मचारी संगठन व मध्य प्रदेश विद्युत अधिकारी/ कर्मचारी कल्याण संघ के द्वारा जिला कलेक्टर सीधी /कनिष्ठ अभियंता वृत्त रीवा के नाम 6 जनवरी से आंदोलन में जाने के संबंध में जूनियर इंजीनियर मझौली को ज्ञापन पत्र दिया गया था।

ज्ञापन में कहा गया है कि उपरोक्त सभी संगठनों द्वारा समय-समय पर संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण एवं बिजली आउटसोर्स कर्मचारियों के विभागीय संविलियन के लिए विगत वर्ष में अनेक पत्र व्यवहार एवं ज्ञापन प्रदर्शन किए गए हैं किंतु अभी तक मध्य प्रदेश सरकार की ओर से संविदा एवं आउट सोर्स दोनों वर्गों के मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया गया है। जिसके कारण कर्मचारी संगठन के 18 दिसंबर 2022 को आयोजित प्रांतीय सम्मेलन में सर्वसम्मति से लिए गए निर्णय के मुताबिक 6 जनवरी 2023 को जेल भरो आंदोलन एवं 7 जनवरी को भोपाल में एकत्रित होकर सामूहिक रूप से कार्य बहिष्कार किया जाएगा।
उक्त आशय के संबंध में प्रदेश संगठन द्वारा संयुक्त रूप से प्रमुख सचिव ऊर्जा मंत्रालय संजय दुबे से वार्तालाप किया गया जिनके द्वारा संगठन के पदाधिकारियों को आश्वासन दिया गया है कि उनकी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री से चर्चा करेंगे और समाधान निकालने का प्रयास किया जाएगा जिसके लिए 15 दिवस का समय दिया गया है और सभी कर्मचारियों को कहा गया है कि पूर्व निर्धारित आंदोलन 15 दिवस के लिए स्थगित किया जाता है।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button