मध्यप्रदेश

छेडछाड के आरोपी को 05 वर्ष का कठोर कारावास व 1,000 जुर्माना।

छेडछाड के आरोपी को 05 वर्ष का कठोर कारावास व 1,000 जुर्माना।

सीधी: माननीय विशेष न्यायालय लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम सह तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश जिला सीधी की न्यायालय के द्वारा विचारण उपरांत थाना रामपुर नैकिन के अ.क्र. 216/2020 अंतर्गत धारा 354, 354(क) भादवि एवं 7/8 पॉक्सो एक्ट म.प्र. शासन विरूद्ध दिनेश बंसल तनय रामचन्द्र बंसल, उम्र 25 वर्ष, निवासी ग्राम चकडौर चौकी खड्डी, थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी को पॉक्सो एक्ट की धारा 9(n)/10 के जुर्म में 05 वर्ष का कठोर कारावास एवं 1,000/-रू. अर्थदण्ड एवं अर्थदण्ड की राशि न जमा करने पर 06 माह का अतिरिक्त सश्रम कारावास की सजा से दण्डित किये जाने का निर्णय आज दिनांक 12.01.2022 को पारित किया गया।
जिला अभियोजन कार्यालय सीधी की मीडिया सेल प्रभारी सुश्री सीनू वर्मा द्वारा बताया गया कि अभियोक्त्री उम्र 15 वर्ष, निवासी ग्राम सतोहरी चौकी खड्डी थाना रामपुर नैकिन जिला सीधी में रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह दिनांक 07.04.2020 को अपनी मौसी गुड्डू बसोर के घर ग्राम रकेला चौकी खड्डी गई हुई थी, जहां उसकी तीसरे नंबर की मौसी का लडका दिनेश बसोर निवासी चकडौर भी आया हुआ था। रात को जब सब खाना खाकर सो गये तो अभियुक्त दिनेश बसोर ने अभियोक्त्री का कमरा यह कहकर खुलवाया कि उसे मोबाइल चार्जिंग पर रखना है और जब अभियोक्त्री ने दरवाजा खोला तो अभियुक्त ने उसका सीना पकडा और गलत काम करने के लिये कहने लगा। अभियोक्त्री ने हल्ला मचाया तो अभियुक्त वहां से भाग गया और अभियोक्त्री का चिल्लाना सुनकर उसकी मौसी वहां आ गई। उक्त घटना की जानकारी अभियोक्त्री ने अपनी मौसी एवं अपनी मॉ को बताई। अभियोक्त्री की शिकायत पर थाना रामपुर नैकिन में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया एवं विवेचना पश्चात अभियोग पत्र माननीय विशेष न्यायालय सीधी के समक्ष प्रस्तुंत किया गया, जहां न्यायालयीन विचारण के दौरान जिला अभियोजन अधिकारी श्रीमती भारती शर्मा के द्वारा शासन की ओर से पैरवी करते हुए अभियुक्त को संदेह से परे प्रमाणित कराया गया। परिणामस्वरूप न्यायालयीन विशेष सत्र प्र. क्र. 28/20 में माननीय न्यायालय द्वारा अभियुक्त को उपरोक्तानुसार दण्ड से दण्डित किया गया।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button