मध्यप्रदेश

जंगल में आगजनी के मामले पर आरोपी को 06 माह का कठोर कारावास एवं 1000 जुर्माना।

जंगल में आगजनी के मामले पर आरोपी को 06 माह का कठोर कारावास एवं 1000 जुर्माना।

सीधी: माननीय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सीधी की न्यायालय द्वारा विचारण उपरांत अभियुक्त जयपाल सिंह पिता रावेंद्र सिंह निवासी ग्राम टीकरीखुर्द सीधी को भारतीय वन अधिनियम की धारा 26(1)(ख) के अपराध में 06 माह का कठोर कारावास एवं 2000 रू अर्थदंड से दण्डित करने का निर्णय पारित किया गया।
मीडिया सेल प्रभारी सीनू वर्मा द्वारा बताया गया कि दि. 25.05.2005 को दोपहर 1 बजे मोबाइल फोन पर सूचना प्राप्त हुई कि बैरिहाई जंगल में आग लगी हुई है।

 

सूचना मिलते ही वनकर्मी सुरक्षा श्रमिकों के साथ बैरिहाई जंगल पहुंचे जहां भीषण आग लगी थी। जंगल में अभियुक्त जयपाल सिंह को आग लगाते हुये सुरक्षा श्रमिकों द्वारा देखा गया था इससे पूर्व भी अभियुक्त वनकर्मीयों की नोकरी ले लूंगा जैसी धमकियां दे चुका था। उक्त मामले पर वन परिक्षेत्र सीधी में भारतीय वन अधिनियम की धारा 26(1)(ख) तथा 26(1)(ग) के अंतर्गत पीओआर क्र. 556/04 पंजीबद्ध की जाकर विवेचना पश्चात अभियोग पत्र माननीय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सीधी न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है जिसमें विचारण पश्चात मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सीधी द्वारा अभियुक्त जयपाल सिंह को धारा 26(1)(ख) में दोषी पाते हुये 06 माह का कठोर कारावास एवं 1000 रू जुर्माना से दंडित किया गया। मामले के न्यायालयीन प्र.क्र. 2375/16 में श्रीमती पूजा गोस्वामी एडीपीओ सीधी द्वारा सशक्त पैरवी करते हुए अभियुक्त को दोषी प्रमाणित कराया गया।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button