मध्यप्रदेश

अवैध रेत परिवहन के आरोपियों की जमानत निरस्तं कर भेजा जेल।

अवैध ट्रांस्पोर्ट के संबंध की द्विपक्षीय संबंधों को जेल भेजा गया।

सीधा: दिनांक 30.01.2022 को प्रात: 07 बजे वन परिक्षेत्र मझौली के खाम्ह बीट वन क्षेत्र से यात्रियों को महान नदी के किनारे पर ट्रेक्टर रेत भरते देखा गया। गस्टी में वन कर्मचारी जब ट्रैक्टर की ओर मुड़ते हैं तो चालक रात में देखते ही खाली होकर वहां से चलने लगता है। स्टाफ द्वारा ट्रेक्टर रोकने पर आरापीगन पारस शर्मा, नीरज शर्मा, रवि शर्मा एवं विकास शर्मा द्वारा स्टाफ से वाद-विवाद करने व धमकाने लगे। थाना मझौली से डर गया तो पथरौला चौकी से पुलिस बल घटना स्थल पर पहुंच गया। ट्रेक्टर में कहीं भी नंबर प्लेट नहीं थी। चालक एवं वाहन मालिक से रेत परिवहन के संबंध में वैधानिक दस्तावेज़ मांगे गए कुछ दस्तावेज़ प्रस्तुत नहीं किए गए हैं। सुरक्षा के पास रखी टांगी को छींन कर वन टीम पर हमला करने का प्रयास किया गया साथ ही जबरन बलपूर्वक धमक कर रक्षा के लिए ट्रेक्टर को ले जाया गया। घटना के लेटर ट्रेक्टर की ट्रॉली ग्राम पनिहा में खडौरा मार्ग पर पायी गई जिसे जप्त कर वन परिक्षेत्र मझौली के प्रांगण में खडा किया गया तथा प्रकरण तैयार कर कोर्ट ने मझौली के अलग प्रस्तुत किया गया, जहां चुनाव की ओर से जमानत का आवेदन प्रस्तुत किया गया , जिसके विरोध में प्रभावी दलील प्रस्तुत कर अभियुक्तगण को जेल भेजने का अनुरोध किया गया,

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button