मध्यप्रदेश

एसडीएम कार्यालय के परिसर के इकलौते हैंडपंप पर ठेकेदार का कब्जा…

एसडीएम कार्यालय के परिसर के इकलौते हैंडपंप पर ठेकेदार का कब्जा…

सीधी सिंहावल। आइए आपको एक बड़ी खबर से रूबरू कराते हैं एसडीएम तहसील कार्यालय परिसर पर इकलौता हैंडपंप है जहां पर कार्यालय में आने वाले हितग्राहियों को पानी पीने की सुविधा के लिए खोदा गया था। और सभी लोग इसी हैंड पंप से पानी पीकर अपनी प्यास बुझाया करते थे। साथ ही मोहल्ले वासी में इसी हैंडपंप के सहारे थे।

ठेकेदार के द्वारा हैंडपंप में डाला मोटर लोग हो रहे परेशान

आपको बताते चलें कि शासकीय हैंडपंप पर ठेकेदार के द्वारा किस आधार पर हैंडपंप नष्ट करते हुए मोटर डाला गया। और अपने निजी कार्य पर उपयोग किया जा रहा है। जबकि यह सार्वजनिक हैंडपंप है जिसमें लोगों को पानी पीने के लिए सुविधा बनाई गई है।
तहसील एवं एसडीएम कार्यालय में आने वाले लोग शुद्ध पानी का सेवन कर रहे थे। जिस पर विराम लगाया गया।

मोटर पंप के बगल में लगाया गया टोटी, विजली गोल होने पर लोग कैसे पिएंगे पानी

बड़ा और अहम सवाल यहां पर यह खड़ा होता है कि अधिकारी एवं कर्मचारियों का प्रतिदिन कार्यालय में आना-जाना बना रहता है। क्या उनकी निगाह कभी नहीं पड़ी। या दिया गया हैं संरक्षण या आदेश। अगर आदेश दिया गया है तो निंदनीय है कि निर्माण कार्य एजेंसी के द्वारा निर्माण कार्य के लिए स्वयं ही पानी की व्यवस्था करनी चाहिएं थीं। ना कि सार्वजनिक हैंडपंप पर कब्जा करना चाहिए था।

जनपद में चल रहा आज मीटिंग का दौर

तहसील एवं एसडीएम कार्यालय से कुछ ही दूरी पर चल रहा बैठक का दौर जिसमें जनपद अध्यक्ष उपाध्यक्ष सहित कई जनप्रतिनिधि मौजूद हैं। जिसमें विभागीय अमला भी शामिल है। संभवत पीएचई विभाग से भी अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद होंगे क्या उनके कान में यह भनक पहुंच पाएगी। कि सार्वजनिक हैंडपंप पर कब्जा किया गया है। क्या इस पर होगी कोई कार्यवाही देखना दिलचस्प होगा। तो बने रहे हमारे साथ।

[URIS id=12776]

Related Articles

Back to top button