AutoFEATUREDTechमध्यप्रदेश

मोरवा पुलिस की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई अवैध शराब तस्करी पर

288 लीटर अवैध शराब के साथ 2 गिरफ्तार, 27 पेटी अवैध शराब समेत 2 वाहन जप्त

पोल खोल सिंगरौली 

मोरवा पुलिस ने अवैध कारोबारियों पर शिकंजा कसते हुए क्षेत्र में फल फूल रहे अवैध शराब के कारोबार को ध्वस्त करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। पुलिस ने सूचना के आधार पर क्षेत्र में 2 जगह रेड कार्यवाही कर अलग-अलग वाहनों से भारी मात्रा में अंग्रेजी एवं देसी शराब जप्त की है। बताया जा रहा है कि मौके से दो आरोपी भी गिरफ्तार हुए हैं, वहीं एक अन्य अंधेरे का फायदा उठाकर फरार होने में कामयाब हो गया है।

 

 

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार सिंगरौली पुलिस अधीक्षक यूसुफ कुरैशी द्वारा अवैध कारोबारियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार वर्मा एवं एसडीओपी राजीव पाठक के मार्गदर्शन में मोरवा निरीक्षक यू पी सिंह ने टीम गठित कर मुखबिर की सूचना पर रविवार तड़के थाना क्षेत्र के पेड़ताली और चटका के समीप अवैध शराब से भरे दो वाहनों को पकड़ा है। पुलिस द्वारा इन वाहनों से 27 पेटियों में कुल 288 लीटर अवैध शराब जप्त हुई है।

 

 

 

पुलिस द्वारा की गई इस रेड कार्यवाही में चटका से सफेद कलर की स्विफ्ट डिजायर क्रमांक MP 04EE 1129 से पुलिस को 15 पेटी कुल 180 लीटर बियर जिसकी कीमत 37 हजार 500 आंकी जा रही है के साथ आरोपी विनय सिंह पिता अखिलेश सिंह उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम शाहपुर रीवा को गिरफ्तार किया है। वही इस कार्यवाही में एक अन्य आरोपी रवि बैस अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया, जिसकी पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

 

 

 

उधर मुखबिर की सूचना पर ग्राम पेड़ताली में कनुहड से आ रही बोलेरो क्रमांक MP 66ZA 8042 से मोरवा पुलिस ने 10 पेटी सफेद व 2 पेटी लाल मसाला कुल 12 पेटी देसी शराब जिसकी कीमत 38 हज़ार बताई की जा रही है जप्त किया है। पुलिस ने वाहन चला रहे गौरव सिंह पिता सज्जन सिंह उम्र 21 वर्ष निवासी जैतपुर थाना विन्ध्यनगर को पकड़ा है। दोनों मामलों में पुलिस ने अपराध क्रमांक 333/23, 334/23 आबकारी एक्ट की धारा 34(2) के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों को न्यायालय में पेश किया है।

उक्त कारवाही में निरीक्षक यू पी सिंह के साथ सहायक उपनिरीक्षक प्रवीण मरावी, उमेश अग्निहोत्री, रामनरेश शुक्ला, प्रधान आरक्षक नीरज सिंह, सुमत कुमार रावत, ओंकारनाथ कुशवाहा, आरक्षक सर्वेश यादव एवं सुरेश परस्ते की सराहनीय भूमिका रही।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button