FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

Sonebhadra: आरईएस विभाग की करतूतों पर लगातार पर्दा डालती नज़र आईं ग्राम्य विकास मंत्री विजय लक्ष्मी गौतम

 

ठेकेदार का भुगतान दूसरे को करने पर लिखित में शिकायत करने पर जांच के आदेश की बात कहा मंत्री जी ने

पोल खोल सोनभद्र

(दिनेश पाण्डेय)

जनपद सोनभद्र दौरे के दौरान राज्यमंत्री आरईएस एवं ग्राम्य विकास विजय लक्ष्मी गौतम ने अपने विभाग और सरकार को दूध का धुला बताया। सर्किट हाउस में विभागों की समीक्षा बैठक के दौरान मीडिया के तीखे सवालों पर मंत्री जी डिफेंस करती नज़र आईं। आरईएस विभाग की करतूतों पर लगातार पर्दा डालती नज़र आईं मंत्री जी। पत्रकारों द्वारा किसी ठेकेदार का भुगतान दूसरे को करने पर लिखित में शिकायत करने पर जांच के आदेश की बात कहा मंत्री जी ने।

वहीं आधी अधूरी सड़क निर्माण पर भी जांच की बात कही। आरईएस विभाग द्वारा विकास के नाम पर भृष्टाचार व कमीशनखोरी का खेल मंत्री विजय लक्ष्मी गौतम को नहीं दिखाई पड़ी। जबकि जनपद सोनभद्र का आरईएस विभाग वेंटिलेटर पर पहुंच चुका है। विभाग कमीशनखोरी के नये कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। परंतु सम्बंधित मंत्री महोदया को विभाग की कारस्तानी नज़र नहीं आ रही है। यह तो वही मसल हो गई, जानत है मानत नहीं एका चढ़ा है जिन। देखत है देखात नहीं, एका है मोतियाबिंद।

जिला खनिज न्यास के मद से आंगनबाड़ी केंद्र का कार्य कराया गया है। परंतु आज तक अधिकांश आंगनबाड़ी केंद्र आधे अधूरे ही बने हुए हैं। साथ ही पैसों का बंदरबांट भी कर लिया गया। आरईएस विभाग द्वारा कमीशनखोरी के लिए भी टेंडर प्रक्रिया में जमकर धांधली की गई। विभाग पूरी तरह से कमीशनखोरी और करप्शन का मकड़जाल बन चुका है।

इस पर भी सम्बंधित विभाग की मंत्री को हरा ही हरा दिखाई दे रहा है। बिना जांच के ही मंत्री महोदया ने आंखमूंद कर आरईएस विभाग की सभी कारगुज़ारियों पर मुहर लगा दी। ऐसे में योगी सरकार के ज़ीरो टॉलरेंस की पॉलिसी कैसे सक्सेस हो सकती है। आने वाले समय में आरईएस विभाग की काली करतूतें योगी सरकार के ताबूत में अंतिम कीलें साबित हो सकती हैं।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Allow me