FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

Sonebhadra: गुरु नानक जयंती बड़ी धूम धाम से इंसानियत एवं सद्भावना के साथ सम्पन्न

 

शोभायात्रा में शामिल लोगों को तरह तरह के लज़ीज़ पकवान पेश किए गए।

पोल खोल सोनभद्र

(दिनेश पाण्डेय)

जनपद सोनभद्र में गुरु नानक जयंती धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर गुरुद्वारा को शानदार तरीके से सजाया गया। साथ ही हर धर्म एवं वर्ग के लिए लंगर का भी आयोजन किया गया। रावर्टसगंज स्थित गुरुद्वारा श्री गुरुद्वारा सिंह सभा को फूल मालाओं से सजाया गया। गुरु नानक जी के गुरु प्रकाशोत्सव पर्व के अवसर पर शुद्ध शाकाहारी भोजन के लंगर की भी व्यवस्था की गई। सभी धर्म एवं समाज के लोगों ने एक ही पंक्ति में बैठकर गुरु का लंगर चखा। सिख समाज के नर एवं नारी अपने बच्चों के साथ लंगर में शरीक लोगों को भोजन परोसा। इस मौके पर लखनऊ से आये जत्थे ने सबद कीर्तन पेश किया।

इस मौके पर सदर विधायक भूपेश चौबे, समाजसेवी एवं बीजेपी नेता मनोज सोनकर, पूर्व चेयरमैन एवं समाजसेवी विजय कुमार जैन, पूर्व चेयरमैन एवं बीजेपी नेता कृष्ण मुरारी गुप्ता, सपा नेता एवं चर्चित समाजसेवी हिदायत उल्लाह खान आदि गणमान्य नागरिकों ने गुरुद्वारा पहुंचकर गुरु का लंगर चखा। साथ ही सदर विधायक भूपेश चौबे ने गुरु नानक जयंती के अवसर पर गुरुद्वारा में मत्था भी टेका। इसके पश्चात गुरुद्वारा से शाम तक़रीबन 5 बजे शोभायात्रा भी निकाली गई।

जिसमें सिख समुदाय के साथ साथ दूसरे धर्म एवं समुदाय के लोगों ने भी हिस्सा लिया। इस मौके पर शोभायात्रा गुरुद्वारा से निकलकर नगर का चक्कर लगाती हुई वापिस गुरुद्वारा पर आकर सम्पन्न हुई। इस शोभायात्रा में पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष एवं समाजसेवी धर्मवीर तिवारी ने भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। अंत में गुरु ग्रन्थ पाठ के साथ ही लंगर का भी आयोजन किया गया। इस दौरान समाजसेवियों ने नगर में जगह जगह खाने पीने का स्टॉल भी लगाया।

शोभायात्रा में शामिल लोगों को तरह तरह के लज़ीज़ पकवान पेश किए गए। समाजसेवी हिदायत उल्लाह खान ने अपने घर के पास हर वर्ष के भांति इस बार भी खाने पीने के स्टाल के साथ शोभायात्रा का स्वागत किया। वहीं पूर्व चेयरमैन विजय जैन ने भी शोभायात्रा के लिए खाने पीने का स्टाल सजाकर अपने हाथों से लोगों को ख़िलाते पिलाते नज़र आये। इस मौके पर कुछ दुकानदारों एवं होटल व्यवसाई भी खाने पीने का स्टॉल लगाकर शोभायात्रा का स्वागत एवं सत्कार करते रहे। शोभायात्रा में सिख धर्म के पुरुषों के साथ साथ महिलाओं ने भी सबद कीर्तन प्रस्तुत किया। वहीं तरह तरह के अदभुत करतब भी शोभायात्रा में देखने को मिला।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Allow me