FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

Sonebhadra: मुख्यमंत्री के विकास प्राथमिकता वाले 37 बिन्दुओं की जिलाधिकारी ने की समीक्षा

 

निर्धारित समयावधि के अन्दर कार्य को पारदर्शिता, गुणवत्ता पूर्ण तरीके से हर हाल में किया जाये पूर्ण-ंजिलाधिकारी

पोल खोल सोनभद्र

(दिनेश पाण्डेय)

नहरों की शिल्ट-सफाई व लेबर के भुगतान में शिथिलता बरतने पर अधिशासी अभियन्ता सिंचाई नहर प्रखण्ड, सिंचाई निर्माण प्रखण्ड को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी करने के दिये निर्देश सड़कों के निर्माण कार्यों की धीमी प्रगति पर अधिशासी अभियन्ता निर्माण खण्ड-1, 2 ,3 व प्रान्तीय खण्ड के वेतन भुगतान पर रोक लगाने के निर्देश जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विकास कार्यक्रमों व मुख्य मंत्री के प्राथमिकता से सम्बन्धित बिन्दुओं की समीक्षा किया, इस दौरान जिलाधिकारी ने विकास कार्यों, लाभार्थीपरक व जन कल्याणकारी योजनाओं की सम्बन्धित अधिकारियों से बारी-बारी से बिन्दुवार समीक्षा की, बैठक में जिलाधिकारी ने सिंचाई विभाग द्वारा नहरों की शिल्ट सफाईं व लेबरों के भुगतान की धीमी प्रगति पाये जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अभियन्ता बन्धी प्रखण्ड द्वितीय राबर्ट्सगंज सोनभद्र, अधिशासी अभियन्ता सिंचाई निर्माण खण्ड सोनभद्र को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी करने के निर्देश दियें। इसी प्रकार से जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग व आर0ई0डी0 विभाग द्वारा सड़कों की मरम्मत व निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की तो निर्माण कार्यों की प्रगति धीमी पायी गयी

जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता निर्माण खण्ड व अधिशासी अभियन्ता निर्माण खण्ड-2, अधिशासी अभियन्ता प्रान्तीय खण्ड, अधिशासी अभियन्ता आर0ई0डी0 के वेतन भुगतान पर रोक लगाने के निर्देश दियें, इसी प्रकार से जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि कल ग्राम सभा जुगैल में ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि यहां पर तैनात चिकित्सक पी0एच0सी0 सेन्टर पर नहीं आते हैं, जिससे ईलाज की सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाती, उन्होंने कहा कि ग्राम सभा जुगैल में जब तक चिकित्सक की उपस्थिति सुनिश्चित नहीं हो जाती तब तक मुख्य चिकित्साधिकारी के देख-रेख में प्रत्येक सप्ताह स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जायेगा

और जनपद के सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर डाॅक्टरों की तैनाती व उपस्थिति अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करायी जाये, इसमें किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाये। जिलाधिकारी ने इस दौरान ग्राम सभा जुगैल में कोटेदार की चयन प्रक्रिया शीघ्र पूरी करने हेतु जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया, उन्होंने समीक्षा बैठक के दौरान पेंशन योजना के समीक्षा के दौरान पेंशन योजना से जुड़ें अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपात्र लाभार्थियों द्वारा पेंशन प्राप्त करने की शिकायते मिलती रहती है, अतः ब्लाक स्तर व गांव स्तर पर शिविर लगाकर पेंशन योजना के लाभार्थियों का सत्यापन कराया और जो अपात्र लाभार्थी हैं, उनका नाम सूची से हटाकर पात्र लाभार्थियों की चयन की कार्यवाही सुनिश्चित की जाये

और इसके लिए पूरे जनपद में विशेष अभियान चलाया जाये। इस दौरान जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया कि जिन ग्राम सभाओं में पानी में आयरन व फ्लोराईड की मात्रा अधिक पायी जाती है, उन ग्राम सभाओं की सूची तैयार कर ली जाये और उन ग्राम सभाओं में पानी फिल्टर की वितरण की कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी सौरभ गंगवार, जिला विकास अधिकारी शेषनाथ चैहान, ए0के0 गुप्ता उप निदेशक कृषि, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी ओम प्रकाश यादव, अपर जिला सूचना अधिकारी विनय कुमार सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button