FEATUREDउत्तर प्रदेशसोनभद्र

Sonebhadra: डॉ वैशाली का मेडिकल ऑफिसर पर हुआ चयन, क्षेत्र में खुशी

 

वैशाली ने इस परीक्षा में 100वा स्थान प्राप्त कर नगर सहित जिले का मान बढ़ाया है।

पोल खोल सोनभद्र

(राजेश पाठक/दिनेश पाण्डेय)

बेटियां हर क्षेत्र में नए-नए कीर्तिमान बनाकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय फलक पर जिले का नाम रोशन कर रही हैं। बेटियो की उपलब्धि से माता पिता ही नहीं पूरे जनपद वासियों को गर्व है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश पब्लिक सर्विस कमिशन प्रयागराज ने बुधवार को यूनानी एवं आयुर्वेदिक मेडिकल ऑफिसर का परीक्षा परिणाम घोषित किया, जिसमें सोनभद्र जिले के ओबरा तहसील अंतर्गत ओबरा निवासी प्रवक्ता ओबरा इंटर कॉलेज जयप्रकाश की पुत्री डॉ वैशाली ने इस परीक्षा में 100वा स्थान प्राप्त कर नगर सहित जिले का मान बढ़ाया है।

डॉक्टर वैशाली के मेडिकल ऑफिसर बनने पर लोगों में हर्ष व्याप्त है। बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। लोगों ने वैशाली की इस सफलता पर उनके पिता को बधाई दी। डॉ वैशाली ने बताया कि उनकी प्राथमिक शिक्षा आर्य विद्या मंदिर ओबरा से तथा हाई स्कूल व इंटरमीडिएट ओबरा इंटर कॉलेज से उत्तीर्ण किया है, उन्होंने बताया कि हाई स्कूल तथा इंटर में वह कॉलेज में टॉपर रहीं है।

आगे की पढ़ाई बीएएमएस राजकीय आयुर्वैदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय लखनऊ से किया है। उन्होंने बताया कि यूपीएससी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर चिकित्साधिकारी (आयुर्वेवेद और यूनानी) के 962 पदों पर भर्ती का परिणाम बुधवार को जारी किया, जिसमें 422 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है, इसमें से मेरा 100वा स्थान है। बताया कि वह शुरू से ही डॉक्टर बनकर समाज सेवा करना चाहती थी

जिसके लिए वैशाली की बड़ी बहन मधुु नेे उन्हेंं प्रेरणा दी और उनके शिक्षक डॉ दिनेश यादव तथा अशोक भगत ने उनका मार्गदर्शन किया। उन्होंने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने सभी गुरुजनों वह परिजनों को दिया। बताया कि वर्तमान में वह राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय चौकाघाट वाराणसी में प्रसूति तंत्र एवम स्त्री रोग विभाग में मास्टर ऑफ़ सर्जरी में शोध कर रही है।

[URIS id=12776]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button